संकल्प रैली से पहले तेजस्वी यादव ने पीएम मोदी और नीतीश से पूछा यह बड़ा सवाल

पीएम नरेंद्र मोदी और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार क़रीब दस साल बाद एनडीए के मंच पर साथ दिखेंगे. दोनों नेता 2009 लोकसभा चुनाव के दौरान आख़िरी बार लुधियाना में एक साथ मंच पर दिखे थे.
TV9 Bharatvarsh Political Updates, संकल्प रैली से पहले तेजस्वी यादव ने पीएम मोदी और नीतीश से पूछा यह बड़ा सवाल

नई दिल्ली: पटना के गांधी मैदान में रविवार को आयोजित ‘संकल्प रैली’ को लेकर राष्ट्रीय जनता दल (राजद) नेता तेजस्वी यादव ने राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) पर निशाना साधा है.

तेजस्वी यादव ने प्रधानमंत्री मोदी पह हमला करते हुए अपने ट्वीटर हैंडल पर लिखा है कि, ‘कल (रविवार) पटना में पीएम मोदी जी बिहार के सीएम नीतीश कुमार की चर्चित DNA रिपोर्ट सार्वजनिक करेंगे. नीतीश जी ने स्वयं सहित 1 करोड़ बिहारवासियों के बाल और नाख़ून कटवाकर एक ट्रेन भरकर PMO भेजी थी. मोदी जी बतायेंगे नीतीश जी ने उनकी थाली क्यों खींची थी? 2013 मे उनके नाम पर गठबंधन क्यों तोड़ा था?’

तेजस्वी यादव ने इस ट्वीट के साथ एक पुराना वीडियो भी शेयर किया है जिसमें पीएम मोदी बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधते दिख रहे हैं.

वहीं नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए तेजस्वी यादव ने लिखा, “क्या नीतीश जी BJP को अभी भी ‘भारत जलाओ पार्टी’ व ‘बडका झूठी पार्टी’ मानते है? अगर मानते है तो साथ क्यों है?अगर नहीं मानते तो अपने वक्तव्य के लिए माफ़ी मांगें?”

पीएम मोदी को लेकर तेजस्वी ने लिखा, “क्या मोदी जी JDU को अभी भी ‘जनता का दमन और उत्पीड़न’ मानते है? अगर मानते है तो जनता के दमन और उत्पीड़न में साथ क्यों है?”

 

उन्होंने आगे लिखा, ‘नीतीश जी और मोदी जी का गठबंधन अवसरवादिता की पराकाष्ठा है. जिस मोदी के नाम पर नीतीश BJP से अलग हुए, 2015 के बिहार चुनाव में नरेंद्र मोदी को उनके टेप सुनाते थे, बहती हवा सा बताते थे. 15 लाख और 2 करोड़ नौकरियां मांगते थे लेकिन 2017 में जनादेश का अपमान करते हुए उन्हीं से हाथ मिला लिया.’

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को पटना में रैली के ज़रिए बिहार में लोकसभा चुनाव के प्रचार अभियान की शुरुआत करेंगे. ऐसे में एनडीए (राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन) और महागठबंधन के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर पहले ही उफ़ान पर पहुंच चुका है.

Related Posts