VIDEO: तेलंगाना में TRS कार्यकर्ताओं ने महिला पुलिसकर्मी को घेरकर बरसाईं लाठियां

तेलंगाना राष्ट्र समिति के कार्यकर्ताओं ने आसिफाबाद जिले में वृक्षारोपण के लिए पहुंचे पुलिस दल और वन रक्षकों की टीम पर हमला बोल दिया. इस दौरान उन्मादी भीड़ ने महिला पुलिसकर्मी को भी नहीं छोड़ा और ताबड़तोड लाठियां बरसा दीं.

हैदराबाद: तेलंगाना में महिला पुलिस कर्मी पर लाठी बरसाने का मामला सामने आया है. इस महिला पुलिस कर्मी को किसी एक व्यक्ति ने लाठी से नहीं पीटा बल्कि कई लोगों ने घेरकर ताबड़तोड लाठियां बरसाईं.

घटना कोमाराम भीम आसिफाबाद जिले के सिरपुर कागजनगर ब्लॉक की बताई जा रही है. जहां कुछ लोगों ने पुलिस और वन विभाग की टीम पर हमला कर दिया. दरअसल तेलंगाना राष्ट्र समिति TRS की सरकार राज्य में ट्री प्लांटेशन का काम कर रही है. इसके लिए वन विभाग की मदद से ट्री प्लांटेशन कराया जा रहा है. इसी दौरान यह घटना हुई.

जानकारी के मुताबिक तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के कार्यकर्ताओं ने आसिफाबाद जिले में वृक्षारोपण के लिए पहुंचे पुलिस दल और वन रक्षकों की टीम पर हमला बोल दिया. इस दौरान उन्मादी भीड़ ने ट्रैक्टर पर सवार महिला पुलिसकर्मी को भी नहीं छोड़ा.

जानकारी के मुताबिक यह मामला 29 जून का है. इस घटना का वीडियो रविवार को सामने आया है जिसमें साफ देखा जा सकता है कि एक महिला पुलिसकर्मी पर कई लोग ताबड़तोड लाठियां बरसा रहे हैं.

महिला पुलिसकर्मी उन लोगों को शांत कराने की कोशिश कर रही है, लेकिन कोई नहीं रुका. लाठी लगने के बाद महिला पुलिसकर्मी रोने लगी. इसी बीच वन विभाग की टीम के साथी कर्मी उन लोगों को रोकने का प्रयास करते हैं, और महिला पुलिसकर्मी को बमुश्किल बचा पाते हैं.

16 लोगों पर मामला दर्ज

वन विभाग के अधिकारियों पर डंडों से हमले की वजह से 6 लोग घायल हुए हैं, जिसमें महिला रेंज ऑफिसर अनिता को गंभीर चोटें आई हैं. उनके सर पर डंडों से हमला किया गया था. यह मामला तूल पकड़ता देख पुलिस ने अपनी कार्रवाई शुरू कर दी है.

16 लोगों पर मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया गया है, जिसमें प्रधान आरोपी स्थानीय विधायक के छोटे भाई, टीआरएस नेता और जेडपी वाइस चेयरमैन कोनेरू कृष्णा भी है. कोनेरू कृष्णा ने अपने जेडपी वाइस चेयरमैन के पद से इस्तीफा दे दिया.