तेलंगाना: चेन्नापुरम के जंगल में मुठभेड़, पुलिस ने मार गिराए तीन माओवादी

तेलंगाना पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि माओवादियों का एक समूह छत्तीसगढ़ और तेलंगाना (Telanagana) की सीमाओं (Border) में सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वाले थे और पुलिस पर भी हमले करने की ताक में थे.

प्रतीकात्मक
प्रतीकात्मक

तेलंगाना के भद्राद्री कोठागुडेम जिले में पुलिस और माओवादियों के बीच जबरदस्त मुठभेड़ हुई. इस मुठभेड़ के दौरान 3 माओवादियों (Maoist) की मौत हो गई, जिसमें एक पुरुष और दो महिलाएं थी. यह मुठभेड़ (Enounter) बुधवार शाम को 7 बजे के करीब चरला पुलिस स्टेशन इलाके में चेन्नापुरम के जंगलों में पुलिस बल और माओवादियों के बीच हुई.

तेलंगाना के भद्राद्री कोठागुडेम जिले के पुलिस अधीक्षक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा कि तेलंगाना राज्य के माओवादियों के संघठन इस महीने 21 तारीख से 27 तारीख तक अपने दल का स्थापना दिवस मना (Foundation Week) रहे थे. इस संदर्भ में अपने कई एक्शन टीम को विध्वंस करने के लिए उतारे थे. तेलंगाना पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि वे छत्तीसगढ़ और तेलंगाना के सीमाओं में सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वाले थे और पुलिस पर भी हमले करने के ताक में थे.

पुलिस ने खुफिया सूचना मिलने पर कोम्बिंग ऑपरेशन चलाया

पुलिस ने गुप्त सूचना पाकर भद्राद्री कोठागुडेम जिले में चारला और मनुगुरु जंगलों में कॉम्बिंग ऑपरेशन शुरू किया गया था. इसी दौरान चारला पुलिस स्टेशन इलाके में स्थित चेन्नापुरम (Chennapuram ) के जंगलों में पुलिस बल और माओवादियों के बीच मुठभेड़ चली. इस दौरान 3 माओवादी (Naxalites) मारे गए, जिसमें 2 महिलाएं और 1 पुरुष हैं. उनके पास एक पिस्तौल, एक 8 मिमी राइफल, ब्लास्टिंग सामग्री और अन्य सामग्री बरामा हुई.

बताया जा रहा कि इस महीने 27 तारीख तक माओवादियों के स्थापना दिवस मनाएंगे. तबतक पुलिस बल भी छत्तीसगढ़ और तेलंगाना के सीमावर्ती इलाकों में अपना कॉम्बिंग ऑपरेशन जारी रखेंगे.

Related Posts