• Home  »  अभी अभीटॉपदेश   »   पुलवामा हमले जैसी सजिश रच रहे थे आतंकी, सुरक्षाबलों ने जंगल से बरामद किया भारी मात्रा में विस्फोटक

पुलवामा हमले जैसी सजिश रच रहे थे आतंकी, सुरक्षाबलों ने जंगल से बरामद किया भारी मात्रा में विस्फोटक

जैश-ए-मोहम्मद (JeM) के आतंकवादियों के छिपे होने के इनपुट पर पुलिस, सेना की 42 आरआर और सीआरपीएफ की 130 बटालियन ने अवंतीपोरा के जंगलों के पास ज्वाइंट सर्च ऑपरेशन चलाया.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 8:41 pm, Thu, 17 September 20

जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बल काफी चौकस हैं, जिसके चलते आए दिन घाटी में आतंकी ठिकानों का भांडाफोड़ किया जा रहा है. इसी कड़ी में गुरुवार को सुरक्षाबलों ने अवंतीपोरा के जंगलों के पास से भारी मात्रा में विस्फोटक सामग्री बरामद की है.

जानकारी के मुताबिक, जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादियों के छिपे होने के इनपुट पर पुलिस, सेना की 42 आरआर और सीआरपीएफ की 130 बटालियन ने गादीखल अवंतीपोरा के जंगलों के पास एक नर्सरी क्षेत्र में ज्वाइंट सर्च ऑपरेशन चलाया.

तलाशी के दौरान पानी की टंकी के पास एक नाले में एक संदिग्ध प्वाइंट मिला, जिसके बाद वहां खुदाई की गई. खुदाई में उस नाले से 250-250 लीटर की दो सिंटैक्स के टैंक मिले, जिनमें भारी मात्रा में विस्फोटक साम्रगी छिपा कर रखी गई थी.

दो प्लास्टिक टैंकों से मिली जिलेटिन की छड़े और डेटोनेटर

इन दोंनों प्लास्टिक टैंक में से एक में जिलेटिन की 416 छड़ें छुपा कर रखी गई थीं और उन्हें बरामद कर लिया गया है. एक छड़ का वजन लगभग 125 ग्राम होगा. इन सब का कुल वजन 52 किलोग्राम था. इसके अलावा दूसरे प्लास्टिक टैंक में 50 डेटोनेटर बरामद किए गए. हालांकि, बम डिस्पोजल स्क्वाड ने डेटोनेटर को ले जाने के जोखिम को देखते हुए मौके पर ही नष्ट कर दिया.

पुलवामा हमले की साइट के पास बरामद हुआ विस्फोटक

इसमें चिंता की बात यह है कि करेवा में जिस जगह से यह विस्फोटक बरामद हुआ है, वो नेशनल हाइवे से कुछ ही दूरी पर है, जहां आतंकियों ने पुलवामा हमले के साजिश को अंजाम दिया था. 

इस बरामदगी से माना जा रहा है कि सुरक्षाबलों ने आतंकियों की किसी बड़ी साजिश को नाकाम कर दिया है, क्योंकि इतनी मात्रा में नेशनल हाइवे के नजदीक जंगल में विस्फोटक छिपाना किसी बड़ी घटना को अंजाम देने की तरफ ही इशारा करता है.

वहीं अब इस मामले में अवंतीपोरा थाना में केस दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी गई है. साथ ही आसपास के इलाकों में भी सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है.