रेप के अपराधियों को तड़पा-तड़पा कर मार देना चाहिए: शिवराज सिंह चौहान

उन्होंने कहा कि कानून में बदलाव किया जाना चाहिए कि जिस दिन लोअर कोर्ट सजा दे, उसके अगले दिन हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हो कर तुरंत फांसी की सजा मिले.

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राजगढ़ में चर्चा के दौरान रेप के अपराधी को मृत्यु दंड देने की वकालत की है. उन्होंने कहा है कि रेप जैसा जघन्य अपराध करने वाले अपराधियों को फांसी के फंदे पर चढ़ा देना चाहिए और तड़पा-तड़पा कर मार देना चाहिए. मानव अधिकार मनुष्यों के लिए होते हैं दरिंदों के लिए नहीं होते.

शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि उनके मुख्यमंत्री रहते रेपिस्ट को फांसी का कानून बनाया गया था. 28 लोगों को सजा भी हुई लेकिन उसके बावजूद एक भी व्यक्ति को फांसी नहीं हो सकी. चौहान ने कहा कि लोअर कोर्ट फिर हाई कोर्ट, फिर सुप्रीम कोर्ट, उसके बाद महामहिम राष्ट्रपति को दया याचिका जाती है. इतना लंबी प्रक्रिया होती है कि उसमें बहुत सारा वक्त लग जाता है और सजा का असर ही खत्म हो जाता है.’

पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने सिस्टम पर सवाल उठाया कि आज तक निर्भया के दोषियों को फांसी नहीं हुई. आखिर कब तक यह देश बर्दाश्त करेगा और कब तक ऐसी बहस चलती रहेगी. उन्होंने कहा कि कानून में बदलाव किया जाना चाहिए कि जिस दिन लोअर कोर्ट सजा दे, उसके अगले दिन हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हो कर तुरंत फांसी की सजा मिले.

ये भी पढ़ें: नेपाल के गढ़ीमाई मंदिर में 30 हजार से ज्यादा पशुओं की दी जाएगी बलि