VIDEO: करगिल युद्ध की कहानी महानायक अमिताभ बच्चन की जुबानी

अभिनेता अमिताभ बच्चन ने कहानी में सेना के साहस, पराक्रम, रणनीति को बयां किया है. 'ऑपरेशन विजय' को इस कहानी में विस्तार से बताया है.

नई दिल्ली: 26 जुलाई, 1999 का दिन देश कभी नहीं भूल सकता. ये वो दिन था जब भारत और पाकिस्तान के बीच करगिल में जंग छिड़ गई थी. इस युद्ध में कई भारतीय जवानों ने अपनी जान गंवाई. देश के शूरवीरों को गए हुए बीस साल हो गए हैं. उनकी याद में अभिनेता अमिताभ बच्चन ने कहानी बयां की है.

उन्होंने कहानी बयां करते हुए कहा, ‘ये सरजमीन ए हिंदुस्तान तेरे उन जां निशारों, जांबाजों, शहीदों और मुहाफिजों को सलाम है, सलाम है, सलाम है. जिन्होंने अपनी बहादुरी की कलम से फतह की एक और बेमिसाल तारीख लिख दी. गवाह है आज भी करगिल की वो बुलंद चोटियां जिनको तुमने अपने लहू से सींचकर तिरंगे की आन, बान और शान को रौशन कर दिया. सन् 1999 में पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान ने बगैर किसी आभास के अपने सैनिकों को loc पार कर भारत की सीमा के अंदर भेज दिया.’

इस कहानी में जनरल परवेज मुशर्रफ के प्लान को बताया है, साथ ही सेना के साहस, पराक्रम, रणनीति को बयां किया गया है. महानायक ने ‘ऑपरेशन विजय’ को इस कहानी में विस्तार से बताया है. दिल को छू जाने वाले सेना के पराक्रम और शौर्य की कहानी को सुनिए इस वीडियो में ‘करगिल युद्ध की कहानी ‘महानायक’ की जुबानी’

ये भी पढ़ें-

करगिल: 16,000 फीट ऊंची पहाड़ियों पर लिखे शहादत के वो किस्से, जो आपके रोंगटे खड़े कर देंगे

Video: पाकिस्तान को पस्त कर देश के लिए शहीद हुए जवानों को कवियों का सलाम