किसानों से जुड़े तीन अध्यादेश: हरियाणा-पंजाब में बीजेपी के साथी दल भी खफा, नड्डा से कर सकते हैं मुलाकात

खेती कृषि पर तीन अध्यादेशों (Three Farm Bills) को लेकर केंद्र की मोदी सरकार घिरती दिख रही है. पंजाब में मोदी सरकार के सहयोगी के रूप में काम करनेवाले अकाली दल ने बिलों का विरोध जताया है.

anti-farmers policies

खेती कृषि पर तीन अध्यादेशों (Three Farm Bills) को लेकर केंद्र की मोदी सरकार घिरती दिख रही है. पंजाब में मोदी सरकार के सहयोगी के रूप में काम करनेवाले अकाली दल ने बिलों का विरोध जताया है. इतना ही नहीं उन्होंने इसके लिए हरियाणा की जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) से भी बात करके उनका समर्थन मांगा है.

हरियाणा में जेजेपी और बीजेपी के गठबंधन वाली सरकार है, इसलिए अकाली दल ने उनका समर्थन मांगा है. खबर है कि जेजेपी भी बिलों पर कन्फ्यूजन से नाराज है. इसके साथ-साथ किसान संगठनों से भी बातचीत जारी है.

जानकारी मिली है कि अकाली दल की तरफ से सुखबीर सिंह बादल अब बीजेपी अध्यक्ष जय प्रकाश नड्डा से मिलकर इसपर (Three Farm Bills) बात करेंगे और अध्यादेशों को लेकर अपना विरोध जताएंगे. अध्यादेशों का विरोध संसद के बाहर भी जताया गया. ऊपर दी गई तस्वीर संसद के बाहर की है, जहां लेफ्ट पार्टियों ने इसे किसान विरोधी कदम बताया.

पढ़ें – मानसून सत्र के पहले दिन कृषि से जुड़े दो बिल लोकसभा में पेश, कांग्रेस ने किया विरोध

किन तीन किसान संबंधी विधेयकों को लेकर विरोध

  • किसान उपज व्‍यापार एवं वाणिज्‍य (संवर्धन एवं सुविधा) विधेयक, 2020
  • किसानों (सशक्तिकरण एवं संरक्षण) का मूल्‍य आश्‍वासन अनुबंध एवं कृषि सेवाएं विधेयक, 2020
  • आवश्‍यक वस्‍तु (संशोधन) विधेयक, 2020

बता दें कि इनमें से दो विधेयकों को सोमवार को मानसून सत्र के दौरान लोकसभा में पेश किया जा चुका है. इसमें कृषि उपज व्यापार और वाणिज्य (Promotion And Facilitation) विधेयक-2020, कृषक (सशक्तिकरण एवं संरक्षण) कीमत आश्वासन और कृषि सेवा पर करार विधेयक-2020 शामिल हैं. सरकार ने 5 जून को ये अध्यादेश जारी किए थे.

200 किसान संगठनों का प्रदर्शन

देशभर के अलग-अलग कोनों में सोमवार को ऑल इंडिया किसान संघर्ष कॉर्गिनेशन कमिटी का विरोध प्रदर्शन हुआ था. इसमें 200 किसान ग्रुप शामिल रहे. राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ से जुड़े भारतीय किसान संघ और ऑल इंडिया किसान सभा भी इन बिलों के खिलाफ हैं. इससे पहले अध्यादेशों के खिलाफ हरियाणा में प्रदर्शन भी हुआ था. वहां किसानों पर लाठीचार्ज की तस्वीरें भी आई थीं.

Related Posts