अब पश्चिम बंगाल में झंडे को लेकर भिड़े टीएमसी-बीजेपी कार्यकर्ता

मारपीट की खबर मिलते ही घटना स्थाल पर पहुंची पुलिस ने दोनो पक्षों को अलग करते हुए स्थिति को नियंत्रण में किया.
पश्चिम बंगाल, अब पश्चिम बंगाल में झंडे को लेकर भिड़े टीएमसी-बीजेपी कार्यकर्ता

दुर्गापुर: बीजेपी का झंडा लगाए जाने को लेकर गुरूवार रात कोकोवेन थाना के मूचिपाड़ा इलाके में बीजेपी और तृणमूल कांग्रेस कार्यकर्ताओं की बीच मारपीट में हो गई. जिसमें बीजेपी के चार और तृणमूल कांग्रेस के एक कार्यकर्ता को चोट पहुंची है. सभी घायलों की इलाज दुर्गापुर महकमा अस्पताल में चल रहा है. बीजेपी जिला अध्यक्ष लखन घरोई घटना के बाद अस्पताल पहुंचे, जहां उन्होंने पार्टी के घायल कार्यकर्ताओं से मुलाकात की.

दुसरी तरफ 28 नंबर वार्ड पार्षद और एमआईसी अंकिता चौधरी भी अस्पताल पहुंची और घायल तृणमूल कांग्रेस और भाजपा कार्यकर्ताओं से मिलीं. दोनो पक्षों की ओर से थाने में मामला दर्ज कराया गया है. पुलिस मामले की जांच में जुट गई है. मिली जानकारी के अनुसार 28 नंबर वार्ड के मूचिपाड़ा इलाके में बीजेपी का विजय जुलूस निकाला गया था.

जुलूस खत्म होने के बाद मूचिपाड़ा की एक खाली जगह पर बीजेपी समर्थक झंडा लगाने लगे. तभी स्थानीय तृणमूल कांग्रेस नेता खोखन रूइदास के नेतृत्व में 30 से 40 समर्थक वहां पहुंचे और झंडा लगाए जाने का विरोध करते हुए मारपीट करने लगे. इसके जवाब में बीजेपी समर्थकों ने लाठी राॅड से हमला बोल दिया. हमले में तृणमूल कांग्रेस के राजीव दास और बीजेपी के विश्वजीत दास सहित चार लोग घायल हो गए.

मारपीट की खबर मिलते ही घटना स्थाल पर पहुंची पुलिस ने दोनो पक्षों को अलग करते हुए स्थिति को नियंत्रण में किया. बीजेपी नेता लखन घोरुइ ने कहा कि लोक सभा चुनाव का परिणाम राज्य में बीजेपी के पक्ष में आने के बाद से ही राज्यभर में कई जगहों पर बीजेपी कार्यकर्ताओं के ऊपर तृणमूल कांग्रेस की तरफ से हमले और हत्या के प्रयास हो रहे हैं.

उनका मानना है कि राज्य की कानुन व्यवस्था बिगड़ गई है. पुलिस शासक दल की होकर काम कर रही है. यादि तीन दिनों के भीतर पुलिस दोषी लोगो को गिरफ्तार नही करती है तो पार्टी की तरफ से जोरदार अंदोलन किया जाएगा. दोनों दलों के घायल कार्यकर्ताओं को देखने गईं पाषर्द अंकिता चौधरी ने कहा कि मेरे लिए पार्टी से बढ़ कर इलाके के लोग हैं. चाहे वह कोई भी दल के हों.

Related Posts