शाह की तस्‍वीरों के जवाब में TMC का वीडियो, दावा- BJP के गुंडों ने तोड़ी विद्यासागर की मूर्ति

प्रेस कांफ्रेंस कर तृणमूल कांग्रेस ने कहा कि जारी वीडियो से ये मालूम चलता है कि अमित शाह एक झूठे हैं, धोखेबाज हैं.

कोलकाता में भारतीय जनता पार्टी (BJP) के अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान हुई हिंसा पर तृणमूल कांग्रेस ने प्रेस कांफ्रेंस कर BJP पर ईश्वर चन्द्र विद्यासागर की मूर्ति तोड़ने का आरोप लगाया है. प्रेस कांफ्रेंस में एक वीडियो भी जारी किया गया, जिसमे कुछ लोग उत्पात मचाते हुए दिख रहे हैं. TMC का आरोप है कि ये लोग विद्यासागर की मूर्ति तोड़ रहे BJP के कार्यकर्ता हैं.

वीडियो जारी करते हुए TMC सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने कई दावे किए हैं-

  • ये बिलकुल क्लियर है कि लोग शांति से संवैधानिक तरीके से काले झंडे और प्लेकार्ड लेकर विरोध कर रहे थे.
  • उन छात्रों और अध्यापकों को धन्यवाद जिन्होंने शांतिपूर्ण तरीके से अमित शाह का विरोध किया.
  • वीडियो से ये मालूम चलता है कि अमित शाह एक झूठे हैं, धोखेबाज हैं. उन्होंने बाहर से गुंडे लाकर कोलकाता में उपद्रव कराया.
  • ये वीडियो में दिख रहा है कि किसने ईश्वर चन्द्र विद्यासागर की प्रतिमा को तोड़ा. उनके कपड़ों को देखिए. उन्होंने क्या पहना है. (वीडियो में कुछ लोग भगवा कपड़े पहने दिखाई दे रहे हैं.)
  • विद्यासागर की मूर्ति तोड़ते हुए नारे लागए गए- विद्यासागर खत्म हुए, वेयर इस द जोश. (नारे बंगाली में लगे थे)
  • कोई भी आकर जुलूस निकाल सकता है. हम कलकत्ता में रहते हैं, ये एक महानगरीय शहर हैं. लेकिन ये बाहरी लोग कौन हैं.  तेजिंदर बग्गा कौन है? वह कौन है? उसे गिरफ्तार कर लिया गया, क्या वह वही आदमी नहीं है जिसने दिल्ली में किसी को थप्पड़ मारा था? आप अपने बाहरी गुंडों में ले गए हैं.
  • पश्चिम बंगाल में चुनाव में धांधली की कोशिशें हो रही हैं लेकिन चुनाव आयोग मूक दर्शक बना हुआ है. उन्हें इसमें हस्तक्षेप करना चाहिए.
Amit Shah, Amit Shah roadshow, Amit Shah kolkata, Amit Shah west bengal
प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में सबूत के तौर पर तस्‍वीर दिखाते शाह.

अमित शाह ने भी की थी प्रेस कांफ्रेंस 

इससे पहले अमित शाह ने प्रेस कांफ्रेंस कर कहा था कि कल यदि सीआरपीएफ नहीं होती तो मेरा वहां से बच कर निकलना मुश्किल था. सौभाग्य से ही मैं बचकर आया हूं. कल की घटना की कलकत्ता हाई कोर्ट अथवा सुप्रीम कोर्ट से जांच करा लें.

शाह ने कहा, “सुबह से पूरे कोलकाता में चर्चा थी कि यूनिवर्सिटी के अंदर से आकर कुछ लोग दंगा करेंगे. पुलिस ने कोई जांच नहीं की और न ही किसी को गिरफ्तार करने की कोशिश की गई.” उन्‍होंने कहा, “अब तक चुनाव के 6 चरण समाप्त हो चुके हैं, इन 6 के 6 चरणों में सिवाय बंगाल के कहीं भी हिंसा नहीं हुई.” BJP अध्‍यक्ष ने कहा कि ‘ममता दीदी कहती है कि भाजपा हिंसा कर रही है. मैं ममता बनर्जी को बताना चाहता हूं कि वो सिर्फ 42 सीटों पर चुनाव लड़ रही है. हम पूरे देश में चुनाव लड़ रहें हैं. कई अलग-अलग पार्टियों से लड़ रहें हैं.’

गेट बंद था तो प्रतिमा किसने तोड़ी?

BJP अध्‍यक्ष ने कहा, “(हम पर) ईश्वर चंद्र विद्यासागर की तस्वीर तोड़ने का आरोप है. जहां ईश्वर चंद्र विद्यासागर की प्रतिमा रखी है वो जगह कमरों के अंदर है. कॉलेज बंद हो चुका था, सब लॉक हो चुका था, फिर किसने कमरे खोले. ताला भी नहीं टूटा है, फिर चाबी किसके पास थी. कॉलेज में टीएमसी का कब्जा है. ममता बनर्जी के कार्यकर्ताओं ने ही मूर्ति तोड़ी. भाजपा के कार्यकर्ता बाहर थे.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *