‘ऑपरेशन भारतवर्ष’ में खुलासा- SP सांसद ने उपचुनाव पर फूंके 7 करोड़, कालेधन के लिए सिस्टम तैयार

सपा सांसद ने खुफिया कैमरे में दावा किया कि कालेधन की डिलीवरी के लिए उनका पूरा सिस्टम तैयार है. पैसा मिलना पक्का हो तो दिल्ली से हवाई जहाज़ के रास्ते में लाखों-करोड़ों रुपये उनके घर तक पहुंच सकते हैं.
Operation Bharatvarsh, ‘ऑपरेशन भारतवर्ष’ में खुलासा- SP सांसद ने उपचुनाव पर फूंके 7 करोड़, कालेधन के लिए सिस्टम तैयार

नई दिल्ली: सांसद महोदय चुनाव जीतने के लिए साम दाम दंड भेद सबका इस्तेमाल करना जानते हैं. प्रधान से लेकर पंचायत तक जरूरत पड़े तो हर किसी को मोटी रकम बांटते हैं. Tv9 भारतवर्ष की अंडरकवर टीम को समाजवादी पार्टी के इस सांसद ने बताया कि चुनाव में साढे़ तीन करोड़ तो सिर्फ कैश ही बांटने पड़े.

उत्तर प्रदेश के फूलपुर लोकसभा सीट से सांसद नागेंद्र प्रताप सिंह पटेल ने खुफिया कैमरे पर बताया कि वोट खरीदने के लिए कैश यानि ब्लैकमनी के अलावा शराब भी बांटने से वो पीछे नहीं हटते. कालेधन की डिलीवरी के लिए उनका पूरा सिस्टम तैयार है. पैसा मिलना पक्का हो तो दिल्ली से हवाई जहाज़ के रास्ते में लाखों-करोड़ों रुपये उनके घर तक पहुंच सकते हैं.

सांसद महोदय ने ऑपरेशन भारतवर्ष के दौरान ये भी खुलासा किया कि चुनाव के मौके पर इलेक्शन कमीशन को झांसा देने के लिए वो अपने ही पैसे की हेराफेरी भी करने से नहीं चूकते.

Operation Bharatvarsh, ‘ऑपरेशन भारतवर्ष’ में खुलासा- SP सांसद ने उपचुनाव पर फूंके 7 करोड़, कालेधन के लिए सिस्टम तैयार
सपा सांसद नागेंद्र प्रताप सिंह पटेल ने कहा कि कालेधन की डिलीवरी के लिए पूरा सिस्टम तैयार है.

‘ऑपरेशन भारतवर्ष’ में हुए ये बड़े खुलासे-

  • 2018 के उपचुनाव में सात करोड़ रुपये फूंके.
  • मतदाताओं को बांटे गए 3.50 करोड़ रुपये.
  • कालेधन की डिलीवरी के लिए पूरा सिस्टम तैयार.
  • हवाई जहाज़ के रास्ते में लाखों-करोड़ों रुपये घर तक पहुंचेगा.

अंडरकवर रिपोर्टर और सांसद नागेंद्र प्रताप सिंह पटेल के बीच स्टिंग में हुई बातचीत के कुछ अंंश-

अंडरकवर रिपोर्टर- आप सर जो अभी लास्ट चुनाव लड़े हैं, उसमें आपने कितना खर्च कर लिया चुनाव में?

सांसद नागेंद्र प्रताप सिंह पटेल- उसमें हमारा करीब 7 के आसपास ख़र्च हो गया

अंडरकवर रिपोर्टर- 7 लाख?

सांसद नागेंद्र प्रताप सिंह पटेल- 7 करोड़

अंडरकवर रिपोर्टर- तो सर इस बार चुनाव में कितना ख़र्च आ जाएगा अंदाज़न कुछ बताइए आप?

सांसद नागेंद्र प्रताप सिंह पटेल- ख़र्च का कोई लिमिट होता है?

अंडरकवर रिपोर्टर- फिर भी सर एक

सांसद नागेंद्र प्रताप सिंह पटेल- इस बार मोदी जी पूरा प्रयास कर रहे हैं, इससे पहले तो जनता ने उन्हें बना दिया इस बार उनको बनना है, पिछली बार तो मोदी की लहर थी, इस बार तो उनको करना है, भाई बातें कर रहे हैं ये सब, सबसे ज़्यादा पैसा भी उन्हीं के पास है, RTI से भी यही आ रहा है कि सबसे ज़्यादा उन्हीं की पार्टी के पास पैसा है.

अंडरकवर रिपोर्टर- जैसे 7 करोड़ आपने लास्ट टाइम ख़र्च किए तो 7 करोड़ में सबसे ज़्यादा किस चीज़ में ख़र्च हुआ?

सांसद नागेंद्र प्रताप सिंह पटेल- ऐसा है कुछ वर्करों को देना होता है

अंडरकवर रिपोर्टर- कैश?

सांसद नागेंद्र प्रताप सिंह पटेल- अब ये पोस्टर, बैनर, फ्लेक्स चुनाव आयोग की गणना में नहीं आता, एक सिस्टम होता है ये प्रधान हैं, ये जिला पंचायत हैं, पार्टी के वर्कर हैं, नेता हैं गाड़ी-घोड़ा लगाना पड़ता है, खाने-पीने में, खाने-पीने में तो उतना बहुत नहीं होता है, कार्यालय में रहते हैं वहां खाने-पीने की व्यवस्था कराना पड़ता है.

अंडरकवर रिपोर्टर- मोटा-मोटी कितना ख़र्च होता होगा इसमें सर पूरे चुनाव के दौरान?

सांसद नागेंद्र प्रताप सिंह पटेल- इतना तो हमने ख़र्च किया था, क्योंकि टिकट को लेकर बड़ी समस्या हो गई थी, पार्टी भी देती है लेकिन हमने कहा हमको टिकट दीजिए बाक़ी हम देख लेंगे

अंडरकवर रिपोर्टर- पार्टी कितना दे देती है सर

सांसद नागेंद्र प्रताप सिंह पटेल- वो तो है ही

अंडरकवर रिपोर्टर- पार्टी से फंड नहीं मिला आपको

सांसद नागेंद्र प्रताप सिंह पटेल- पिछली बार नहीं दिया था

अंडरकवर रिपोर्टर- या आपको देना पड़ गया था सर?

सांसद नागेंद्र प्रताप सिंह पटेल- हमारी समाजवादी पार्टी देती है लेती नहीं, टिकट के लिए कभी नहीं लेती है…

Related Posts