, Video: बेंगलुरु में रिहर्सल के दौरान 2 सूर्य किरण एयरक्राफ्ट क्रैश, दोनों पायलट सुरक्षित
, Video: बेंगलुरु में रिहर्सल के दौरान 2 सूर्य किरण एयरक्राफ्ट क्रैश, दोनों पायलट सुरक्षित

Video: बेंगलुरु में रिहर्सल के दौरान 2 सूर्य किरण एयरक्राफ्ट क्रैश, दोनों पायलट सुरक्षित

, Video: बेंगलुरु में रिहर्सल के दौरान 2 सूर्य किरण एयरक्राफ्ट क्रैश, दोनों पायलट सुरक्षित

बेंगलुरु: बेंगलुरु में एक एयर शो के दौरान एयरबेस पर दो एयरक्राफ्ट आपस में ही टकरा गए, जिसमें सूर्य किरण एयरोबैटिक्स टीम के दोनों एयरक्राफ्ट क्रैश हो गए. बताया जा रहा है एयरो शो से पहले रिहर्सल के दौरान जैसे ही इन दोनों एयरक्राफ्टों ने उड़ान भरी दोनों प्लेन आपस में ही टकरा गए. रिपोर्ट की मानें तो दोनों विमान के पायलट सुरक्षित हैं. बताया जा रहा है कि दोनों पायलट एयरक्राफ्ट से निकल गए थे. यह एयर शो येलाहंका एयरफोर्स बेस पर हो रहा था और इसमें राफेल विमान भी प्रदर्शित होना है. यह एयर शो 20 फरवरी से 24 फरवरी तक बेंगलुरु के येलाहंका एयरफोर्स बेस पर चलेगा.

प्रारंभिक रिपोर्ट में कहा गया है कि इमरजेंसी व्हीकल को घटनास्थल पर भेजा गया है. पुलिस ने पूरे इलाके को घेर लिया है और बचाव अभियान चलाया जा रहा है. एयर शो बुधवार यानी 20 फरवरी से शुरू होना है.  बेंगलुरु पुलिस का कहना है, “इस हादसे में एक नागरिक को चोट लगी है. दोनों पायलटों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है, क्रैश हुए एयरक्राफ्ट का मलबा इसरो लेआउट, येलहंका नए टाउन एरिया के पास गिर गया है.”

गौरतलब है कि सूर्य किरण टीम का गठन 27 मई 1996 को हुआ था. इसमें विमान की रफ्तार 400 से 500 किलोमीटर प्रति घंटे तक होती है. दरअसल, 1996 के बाद से सूर्य किरण सफलता पूर्वक कलाबाजियां करती रही है. सूर्य किरण के एयरक्राफ्ट के पायलट काफी दक्ष होते हैं और इसके पायलट काफी अनुभवी होते हैं. यही वजह है कि काफी दक्ष तरीके से इसके पायलट सूर्य किरण विमान के साथ कलाबाजियां दिखा पाते हैं.

, Video: बेंगलुरु में रिहर्सल के दौरान 2 सूर्य किरण एयरक्राफ्ट क्रैश, दोनों पायलट सुरक्षित
, Video: बेंगलुरु में रिहर्सल के दौरान 2 सूर्य किरण एयरक्राफ्ट क्रैश, दोनों पायलट सुरक्षित

Related Posts

, Video: बेंगलुरु में रिहर्सल के दौरान 2 सूर्य किरण एयरक्राफ्ट क्रैश, दोनों पायलट सुरक्षित
, Video: बेंगलुरु में रिहर्सल के दौरान 2 सूर्य किरण एयरक्राफ्ट क्रैश, दोनों पायलट सुरक्षित