Uber के इस फैसले के बाद सुरक्षित घर पहुंचेंगे यात्री, कंपनी ने किया दावा

इस तरह की सुविधा कंपनी अपने अमेरिका और कनाडा के बाजार में पहले से दे रही है.

नई दिल्ली: देश के सभी बड़े शहरों से कैब के अंदर छेड़छाड़ या क्राइम की ख़बर आती रहती है. ज़्यादातर मामलों में पुलिस केस ही सुलझाती रहती है. आपने शायद ही कभी सुना हो कि पुलिस की मुस्तैदी की वजह से कोई वारदात होते-होते रह गई. ऐसे में कई सारी कंपनियां अपनी तरफ़ से अपराध रोकने के लिए नए-नए प्रयास करती रहती है.

इसी तर्ज़ पर टैक्सी बुकिंग की सेवा देने वाली कंपनी Uber ने देश में 24 घंटे की सुरक्षा हेल्पलाइन शुरू की है. कंपनी ने मंगलवार को जानकारी दी कि इस हेल्पलाइन पर ग्राहक किसी भी समय यात्रा के दौरान गाड़ी खराब होने, ड्राइवर के साथ विवाद, अशिष्टता इत्यादि मुद्दों को लेकर कॉल कर सकते हैं. पहले जहां कंपनी की हेल्पलाइन में सिर्फ टेक्स्ट मेसेज का ऑप्शन था, अब शिकायतें वॉट्सऐप कॉल के जरिए की जा सकेंगी और एजेंट आपकी कॉल अटेंड करेगा.

मूलरूप से अमेरिका की इस कंपनी ने कहा कि उसकी ऐप में ही मौजूद यह नया सुरक्षा फीचर ग्राहकों को सीधे कंपनी की सुरक्षा टीम से बात करने में सक्षम बनाता है. उसकी ऐप पर सुरक्षा मानकों को ध्यान में रखते हुए पहले से एसओएस बटन मौजूद है जो ग्राहकों को आकस्मिक स्थिति में तत्काल पुलिस से जुड़ने में मदद करता है. हेल्पलाइन के फीचर का कंपनी मार्च से चंडीगढ़ में प्रायोगिक परीक्षण कर रही थी. अब कंपनी ने इसे अपने परिचालन वाले 40 भारतीय शहरों में शुरू कर दिया है.

इस तरह की सुविधा कंपनी अपने अमेरिका और कनाडा के बाजार में पहले से दे रही है. कंपनी ने बताया कि यह सुविधा शुरुआत में हिंदी और अंग्रेजी में उपलब्ध होगी. ‘ऊबर लाइट’ पर यह सेवा उपलब्ध नहीं होगी. कंपनी के भारत और दक्षिण एशिया के केंद्रीय परिचालन (यात्रा) प्रमुख पवन वैश ने यहां एक प्रेसवार्ता में कहा, ‘हमारे सभी ग्राहक अब इस हेल्पलाइन का उपयोग करने में सक्षम होंगे. वह इस पर दिन हो या रात कभी भी कॉल कर सकते हैं. यात्रा के दौरान जब भी उन्हें जरूरत लगे वह इस पर कॉल कर सकते हैं.’

Related Posts