जानें कौन है वो शख्‍स जिसने कहा, SPG सिक्‍योरिटी मिले तो लगता है मैं PM हूं

"जो लोग SPG कवर में रहते हैं, उन्‍हें लगता है कि वे देश के प्रधानमंत्री हैं और विशेषाधिकार वाले व्‍यक्ति हैं."

बीजेपी सांसद नीरज शेखर ने SPG सुरक्षा का अपना अनुभव साझा किया है. उन्‍होंने कहा है कि SPG सिक्‍योरिटी पाने वालों को ‘लगता है कि वे ही प्रधानमंत्री हैं.’ 11 साल तक SPG कवर में रहे शेखर ने राज्‍यसभा में मंगलवार को यह बात कही.

शेखर ने कहा, “जो लोग SPG कवर में रहते हैं, उन्‍हें लगता है कि वे देश के प्रधानमंत्री हैं और विशेषाधिकार वाले व्‍यक्ति हैं.” उन्‍होंने कहा कि BJP ‘इस VIP कल्‍चर’ को हटाना चाहती है.

SPG (संशोधन) विधयेक पर चर्चा के दौरान शेखर ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्र‍ियों के परिजन बुलेटप्रूफ कारों में सफर करते हैं. उनका कोई सिक्‍योरिटी चेक नहीं होता, हर समय पुलिस साथ रहती है. यहां तक कि एयरपोर्ट पर कंपलसरी जांच भी नहीं होती.

उन्‍होंने कहा, “जब 1991 में SPG एक्‍ट में संशोधन हुआ, मुझे भी सिक्‍योरिटी मिली जिसकी जरूरत नहीं थी. लेकिन मुझे ये अच्‍छा लगा क्‍योंकि मैं 22 साल का था और एक सिक्‍योरिटी गार्ड मेरी परछाई की तरह रहता था. जब भी मैं एयरपोर्ट जाता, मेरी कार सीधे प्‍लेन तक जाती. जहां भी मैं जाता, एक बुलेटप्रूफ कार मेरे इंतजार में रहती.”

सदन में पहली बार भाषण दे रहे शेखर ने कहा, “वैसे तो मैं कुछ नहीं था मगर इसके बावजूद लोग मेरा ऑटोग्राफ लेने आते थे.

ये भी पढ़ें

जानिए क्‍यों बनी थी SPG?