Jammu and Kashmir जाने का प्‍लान बना रहे हैं तो ये गाइडलाइंस ध्‍यान से पढ़ लीजिए

दुनिया भर में कोरोना वायरस (Coronavirus) बीमारी के प्रकोप को देखते हुए एहतियात के तौर पर जम्मू कश्मीर में विदेशी टूरिस्टों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया गया था.
Jammu and Kashmir, Jammu and Kashmir जाने का प्‍लान बना रहे हैं तो ये गाइडलाइंस ध्‍यान से पढ़ लीजिए

केंद्र प्रशासित जम्मू-कश्मीर में मंगलवार को टूरिस्ट प्लेस फेज वाइस खोल दिए गए हैं. जम्मू-कश्मीर जाने की योजना बनाने वाले यात्रियों को कई सारे दिशानिर्देशों का पालन करना होगा. कोरोना महामारी (Coronavirus Pandemic) की वजह से यहां टूरिज्म पर बुरा असर पड़ा था जोकि यहां की अर्थव्यवस्था की रीढ़ है.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

अधिकारियों ने दुनिया भर में कोरोना वायरस (Coronavirus) बीमारी के प्रकोप को देखते हुए एहतियात के तौर पर जम्मू कश्मीर में विदेशी टूरिस्टों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया था.

यदि आप J-K की यात्रा करने की योजना बना रहे हैं, तो आपको यह जानना जरूरी है…

  • दिशा-निर्देश और मानक संचालन प्रक्रिया (SOP) के अनुसार, केवल हवाई मार्ग से आने वालों को J-K में प्रवेश करने की अनुमति होगी.
  • सभी टूरिस्ट्स को आरोग्य सेतु मोबाइल एप्लिकेशन इंस्टॉल करना होगा और अपने स्वास्थ्य के बारे में नियमित अपडेट करना होगा.
  • दिशानिर्देशों के अनुसार, 65 वर्ष से अधिक आयु के टूरिस्टों को J-K आने से बचना चाहिए.
  • दिशा-निर्देशों के अनुसार, टूरिस्टों को होटल, हाउसबोट या गेस्टहाउस आदि में अपने आवास की ऑनलाइन बुकिंग करना अनिवार्य होगा.
  • टूरिस्ट के ठहरने की अवधि के लिए होटल बुकिंग की पुष्टि की होगी और साथ ही J-K के बाहर किसी भी स्थान पर वापसी टिकट की पुष्टि की होगी.
  • होटल प्रशासन या ट्रैवल एजेंटों को यात्रियों को हवाई अड्डे से पिक-अप सुविधा प्रदान करनी होगी और उन्हें उनके प्रस्थान पर छोड़ना होगा.
  • होटल या ट्रैवल एजेंसी के माध्यम से टैक्सी या परिवहन सुविधा को प्री-बुक करना होगा जिसके लिए पर्यटन विभाग द्वारा प्रक्रिया की जाएगी.
  • टूरिस्ट में कोरोना वायरस का पता लगाने के लिए रैपिड टेस्टिंग अनिवार्य होगी.
  • जब तक कोरोना का टेस्ट रिजल्ट निगेटिव नहीं आता, तब तक एक टूरिस्ट उस होटल में रहेगा जहां बुकिंग की गई है और उसे बाहर जाने की अनुमति नहीं होगी.
  • “विशेष परिस्थितियों को छोड़कर” परीक्षण के परिणाम आम तौर पर 24 घंटे के भीतर आ जाएंगे. दिशानिर्देशों के अनुसार, होटल मैनेजमेंट को प्रोटोकॉल का अनुपालन सुनिश्चित करने की आवश्यकता होगी.
  • COVID-19 की निगेटिव रिपोर्ट वाले टूरिस्ट्स को होटलों में आइसोलेशन में रहने की आवश्यकता नहीं होगी.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

Related Posts