प्रदर्शनकारी महिलाओं को नहीं पता कि CAA क्या है, उनके मर्द अक्षम हैं- सीएम योगी आदित्यनाथ

सीएम योगी ने कहा कि कुछ लोगों में इतनी हिम्मत नहीं कि वे स्वयं आंदोलन करें, इसलिए घर की महिलाओं और बच्चों को चौराहों पर बैठा दिया है. सीएम योगी ने कहा कि पुरुष घर में रजाई में सो रहे हैं और महिलाएं चौराहे पर हैं.

दिल्ली के शाहीन बाग और लखनऊ के घंटाघर पर नागरिकता संशोधन कानून को लेकर सैकड़ों महिलाएं धरने पर बैठीं हैं. उनके इस प्रदर्शन पर यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने करारा हमला बोला है. उन्होंने कहा कि पुरुष घर के भीतर रजाई में सो रहे हैं और महिलाएं चौराहे पर हैं.

सीएम योगी ने कहा कि कुछ लोगों में इतनी हिम्मत नहीं कि वे स्वयं आंदोलन करें, इसलिए घर की महिलाओं और बच्चों को चौराहों पर बैठा दिया है. सीएम योगी ने कहा कि पुरुष घर में रजाई में सो रहे हैं और महिलाएं चौराहे पर हैं.

कानपुर में सीएए के समर्थन में आयोजित एक रैली को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने कहा कि प्रदर्शन के नाम पर हिंसा को बर्दाश्‍त नहीं करेंगे. उन्‍होंने कहा कि विपक्ष देश के दुश्मनों की भाषा बोल रहा है. हिंसा करने वालों से वसूली की जाएगी.

उन्होंने कहा कि विपक्ष के रवैये से देश के दुश्‍मनों के हौसले बुलंद हो गए हैं. भारत को बदनाम करने का अभियान चल रहा है. मुख्‍यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस, लेफ्ट और एनजीओ लोगों को भड़का रहे हैं. हमें मौन नहीं रहना है.

विपक्ष पर करारा प्रहार करते हुए योगी ने कहा कि कांग्रेस नेता कह चुके हैं कि जब तक आईएसआई के एजेंटों की भारत में एंट्री नहीं करा लेते तब तक नहीं मानेंगे. विरोध करने वाली महिलाओं को नहीं पता कि सीएए क्या है, उनके मर्द अक्षम हैं।’ उन्‍होंने कहा कि कश्मीर की आज़ादी के नारे देशद्रोह की श्रेणी में हैं.

सीएए के खिलाफ पिछले कई दिनों से दिल्‍ली के शाहीन बाग और लखनऊ के घंटाघर पर प्रदर्शन चल रहा है. लखनऊ के घंटाघर इलाके में महिलाएं और बच्चे हाथों में तिरंगा थामे नागरिकता संशोधन ऐक्ट के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं.