खेती से जुड़े बिलों पर राज्यसभा में जबरदस्त हंगामा, टीएमसी सांसद ने फाड़ी रूल बुक की कॉपी

खेती-किसानी से जुड़ी तीन बिलों को लेकर राज्यसभा में आज जमकर हंगामा हुआ. कोरोना काल में हो रहे मानसून सत्र में हंगामे के दौरान विपक्ष के राज्यसभा सांसद उपसभापति हरिवंश नारायण की कुर्सी के बगल तक आ गए थे.

Derek-O-Brien

खेती-किसानी से जुड़ी तीन बिलों को लेकर राज्यसभा (Farms Bills in Rajya Sabha) में आज जमकर हंगामा हुआ. कोरोना काल में हो रहे मानसून सत्र में हंगामे के दौरान विपक्ष के राज्यसभा सांसद उपसभापति हरिवंश नारायण सिंह की कुर्सी के बगल तक आ गए थे. हंगामे के दौरान टीएमसी सांसद डेरेक ओ ब्रायन (Derek O’Brien) ने उपसभापति हरिवंश नारायण के पास जाकर संसद की रूल बुक को फाड़ दिया.

इतना ही नहीं टीएमसी सांसद डेरेक ओ ब्रायन (Derek O’Brien) ने उपसभापति का माइक को छीनने की कोशिश भी की. वहीं आप सांसद संजय सिंह ने माइक तोड़ दिया. हंगामा इतना बढ़ गया था कि राज्यसभा की कार्यवाही को कुछ देर के लिए स्थगित करना पड़ा. हालांकि बाद में बिलों को ध्वनिमत से पास करवा लिया गया.

लगे बिल वापस को के नारे

राज्यसभा में आज सरकार की तरफ से कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने खेती से जुड़े दो बिलों को राज्यसभा में पेश किया था. सरकार नेद फार्मर्स प्रोड्यूस ट्रेड एंड कॉमर्स (प्रमोशन एंड फेसिलिटेशन) बिल 2020, द फार्मर्स (एम्पॉवरमेंट एंड प्रोटेक्शन) एग्रीमेंट ऑफ प्राइज एश्योरेंस एंड फार्म सर्विसेस बिल 2020 को पेश किया था. सुबह से इसी पर बहस भी हो रही थी. लेकिन दोपहर होते-होते बहस हंगामे में बदल गई. फिर विपक्षी नेताओं ने उपसभापति की कुर्सी के पास आकर नारेबाजी शुरू कर दी थी. इसके बाद डेरेक ओ ब्रायन ने रूल बुक की कॉपी फाड़ी.

यह लोकतंत्र की हत्या: डेरेक ओ ब्रायन

राज्यसभा में पूरे ड्रामे के बाद डेरेक ओ ब्रायन (Derek O’Brien) ने अपनी सफाई पेश करते हुए एक वीडियो बनाया. इसे ट्वीट करते हुए डेरेक ने लिखा कि राज्यसभा में 13 से 14 पार्टी इस बिल के खिलाफ थीं. फिर भी सरकार ने बिल को सिलेक्ट कमिटी के पास नहीं भेजा और वोटिंग नहीं करवाई. उन्होंने कहा कि यह लोकतंत्र की हत्या है.

Related Posts