भारत के साथ बॉर्डर पर तनाव कम करे चीन… अमेरिकी सांसदों ने पेश किया प्रस्ताव

प्रस्ताव में कहा गया है कि LAC के पास 15 जून तक कई महीनों पहले से चीनी सैन्य बलों ने कथित रूप से 5,000 जवानों को तैनात किया और वह बल प्रयोग और आक्रामकता के जरिए उन सीमाओं को बदलने की कोशिश कर रहा है जो काफी समय पहले ही तय की जा चुकी हैं.
India china border tension, भारत के साथ बॉर्डर पर तनाव कम करे चीन… अमेरिकी सांसदों ने पेश किया प्रस्ताव

अमेरिका के हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव्स में नौ प्रभावशाली सांसदों ने भारत के खिलाफ चीन की सैन्य आक्रामकता पर चिंता जताते हुए एक प्रस्ताव पारित किया है. इस प्रस्ताव में चीन से अपील की गई है कि वो राजनयिक चैनलों से सीमा पर तनाव कम करे, न कि बल के प्रयोग से.

मालूम हो कि 5 मई से भारत और चीन के बीच पूर्वी लद्दाख में सीमा पर तनावपूर्ण हालात हैं. इसके चलते 15 जून को दोनों देशों के सैनिकों के बीच हिंसक झड़प हुई, जिसमें 20 भारतीय सैनिक शहीद हो गए थे.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव्स में जिन सांसदों ने प्रस्ताव पेश किया है, उनका नेतृत्व भारतीय अमेरिकी मूल के सांसद राजा कृष्णमूर्ति ने किया है. प्रस्ताव के अन्य स्पॉन्सर्स में भारतीय अमेरिकी सांसद रो खन्ना, सांसद फ्रैंक पैलोने, टोसुओजी, टेड योहो, जॉर्ज होल्डिंग, शीला जैक्सन-ली, हैली स्टीवंस और स्टीव चाबोट शामिल थे.

प्रस्ताव में कहा गया है कि LAC के पास 15 जून तक कई महीनों पहले से चीनी सैन्य बलों ने कथित रूप से 5,000 जवानों को तैनात किया और वह बल प्रयोग और आक्रामकता के जरिए उन सीमाओं को बदलने की कोशिश कर रहा है जो काफी समय पहले ही तय की जा चुकी हैं.

प्रस्ताव में इस बात का भी जिक्र किया गया है कि भारत और चीन के बीच LAC के पास तनाव कम करने और सैनिकों को पीछे हटाने को लेकर सहमति बन गई है. साथ ही प्रस्ताव में कहा गया है कि पूर्वी लद्दाख में कई सप्ताह से चल रहे इस गतिरोध के बाद 15 जून को हुई हिंसक झड़प में कम से कम 20 भारतीय सैनिक शहीद हुए थे और कई चीनी सैनिक भी इस झड़प में मारे गए थे.

Related Posts