औली में शादी करानी है तो 3 करोड़ रुपए दो, उत्तराखंड HC ने गुप्ता बंधुओं को दिया निर्देश

इस शाही शादी में 200 करोड़ रुपए का खर्चा किया जा रहा है.

देहरादून: उत्तराखंड हाई कोर्ट ने मंगलवार को साउथ अफ्रीका में रहने वाले एनआरआई गुप्ता परिवार से चमोली डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट को तीन करोड़ रुपए सिक्यूरिटी के तौर पर जमा कराने को कहा है. कोर्ट ने यह पैसा इसलिए जमा कराने को कहा है ताकि गुप्ता परिवार में ही रही शादी से अगर पर्यावरण को कोई नुकसान होता है तो वह पैसा उसके सुधार में लगाया जा सके.

बिजनेस टायकून अजय गुप्ता और अतुल गुप्ता के बेटों की शाही शादी का आयोजन औली में किया गया है. अजय गुप्ता के बेटे सूर्यकांत की शादी के फंक्शन का आयोजन 18 से 20 जून तक किया गया है. वहीं अतुल गुप्ता के बेटे शशांक की शादी का आयोजन 20 जून से 22 तक किया गया है.

इस शाही शादी में 200 करोड़ रुपए का खर्चा किया जा रहा है. वहीं इस शादी को लेकर विवाद तब खड़ा हुआ जब प्रसिद्ध स्कीइंग डेस्टीनेशन औली में पर्यावरणीय नुकसान की आशंका जताई गई. इसके साथ ही कोर्ट ने पहले राज्य सरकार से जवाब मांगा था कि औली जैसी इकोलॉजिकली सेंसिटिव स्कीइंग डेस्टिनेशन में गुप्ता बंधुओं को शादी समारोह आयोजित करने की इजाजत किसने दी.

कोर्ट ने उत्तराखंड पर्यावरण एवं प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को निर्देश दिए थे कि साइट का निरीक्षण करें और मंगलवार तक रिपोर्ट सौंपे.

आज सुनवाई के दौरान चीफ जस्टिस रमेश रंगनाथन और जस्टिस अलोक वर्मा की बेंच ने निर्देश दिया कि गुप्ता भाइयों को 19 जून तक यानि आज डेढ़ करोड़ रुपए जमा करवाने होंगे और फिर 21 जून तक उन्हें डेढ़ करोड़ रुपए जमा कराने होंगे. अगर वे ऐसा नहीं करते हैं तो जिला प्रशासन द्वारा उनपर कार्रवाई की जाएगी.

इसके साथ ही कोर्ट ने निर्देश दिए कि शादी में किसी भी तरह के पटाखे नहीं जलाए जाएं और शोर शराबे की क्षमता अनुमानित डेसिबल से कम होनी चाहिए.