एक चूहे ने रोकी एयर इंडिया की उड़ान, 24 घंटे तक तक चला सर्च अभियान, यात्री परेशान

एविएशन नियमों के मुताबिक विमान में चूहे के होने पर यह किसी भी सूरत में उड़ान नहीं भर सकता है क्योंकि अगर चूहे ने एयरक्राफ्ट की किसी वायरिंग (तार) को नुकसान पहुंचाया तो बड़े खतरे की आशंका हो सकती है.

लखनऊ: वाराणसी के लाल बहादुर शास्त्री एयरपोर्ट में एयर इंडिया के एक विमान को 24 घंटे के लिए रोक दिया गया. वजह भी ऐसी है जिसको सुनने के बाद आप भी शायर कुछ पलों के लिए स्तब्ध रह जाएंगे. आमतौर पर देखा जाता है कि मौसम में खराबी या फिर विमान में तकनीकि कोई समस्या हो जाए तभी फ्लाइट लेट या निरस्त होती है लेकिन यहां एक कारण कुछ और ही है.

दरअसल, शनिवार रात विमान में चूहा दिखाई देने से अफरा-तफरी मच गई. इसके चलते यात्रियों को विमान से नीचे उतार दिया गया. हालांकि काफी समय तक ढूंढने के बाद भी चूहा नहीं मिल सका. आखिर सोमवार सुबह जाकर एयर इंडिया एयरबस 319 ने देहरादून के लिए उड़ान भरी. इस दौरान यात्रियों को विमान से उतारकर 24 घंटे तक होटल में शिफ्ट किया गया और एयरलाइन स्टाफर चूहा ढूंढते रहे.

एविएशन नियमों के मुताबिक विमान में चूहे के होने पर यह किसी भी सूरत में उड़ान नहीं भर सकता है क्योंकि अगर चूहे ने एयरक्राफ्ट की किसी वायरिंग (तार) को नुकसान पहुंचाया तो बड़े खतरे की आशंका हो सकती है. यह विमान में बैठे यात्रियों और क्रू सदस्यों के लिए जानलेवा भी साबित हो सकता है. एयरलाइन अधिकारियों ने फ्लाइट को शनिवार रात और रविवार को पूरे दिन के लिए रोक दिया. इस दौरान मेंटिनेंस वर्कर विमान के केबिल की जांच करते रहे और चूहे को भी ढूंढते रहे.

विमान को दोबारा उड़ान भरने के लिए रोडेंट फ्री (चूहा-मुक्त) सर्टिफाइ होना जरूरी होता है. एयरलाइन सूत्र यह बताने में असफल रहे कि चूहा वाराणसी एयरपोर्ट से विमान में घुसा था या फिर पहले से ही विमान के अंदर मौजूद था. बता दें कि एयर इंडिया ने विमान ने कोलकाता एयरपोर्ट से उड़ान भरी थी और 85 मिनट की यात्रा के बाद वाराणसी एयरपोर्ट पहुंचा था.