VHP ने तबलीगियों की जमानत पर उठाया सवाल, कहा- अब तक मौलाना साद गिरफ्तार क्यों नहीं

निजामुद्दीन मरकज (Nizamuddin Markaz) मामले में शुक्रवार को 70 बांग्लादेशी नागरिकों को जमानत दे दी गयी. इससे पहले बुधवार को साकेत कोर्ट (Saket Court) ने 42 विदेशी लोगों को तबलीगी जमात (Tablighi Jamaat) में शामिल होने के मामले में जमानत दे दी थी.
VHP questioned the bail of tablighi, VHP ने तबलीगियों की जमानत पर उठाया सवाल, कहा- अब तक मौलाना साद गिरफ्तार क्यों नहीं

निजामुद्दीन मरकज (Nizamuddin Markaz) मामले में तबलीगी जमात से संबंधित लोगों को अदालत से जमानत दिये जाने पर विश्व हिंदू परिषद (VHP) ने सवाल उठाया है. इस मसले पर VHP ने विदेशी तबलीगी जमात (Tablighi Jamaat) से जुड़े लोगों को महज 7 हजार के जुर्माने पर छोड़े जाने पर प्रश्न खड़ा किया है.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

इस मसले पर VHP प्रवक्ता विनोद बंसल (Vinod Bansal) ने ट्वीट कर कहा है, “60 मलेशियाई तबलीगी जमातियों पर वीजा नियमों का उल्लंघन, कोरोना (Coronavirus) फैलाने और सरकारी आदेशों को नहीं मानने का आरोप था, फिर भी महज 7 हजार रुपये के जुर्माने पर छोड़ दिया गया. कितना दयालु है हमारा देश और कानून. कोरोना साद की गिरफ्तारी क्यों नहीं.”

मौलाना साद की गिरफ्तारी ना होने पर उठाए सवाल

VHP प्रवक्ता विनोद बंसल ने कहा कि इस मसले में किंग पिन मौलाना साद (Maulana Saad) की गिरफ्तारी क्यों नहीं हो रही है? उन्होंने पूछा कि ये लुका-छिपी का खेल कब तक चलेगा? बंसल ने आरोप लगाया कि मौलाना साद न केवल दिल्ली दंगे का सरगना है बल्कि इसके इशारे पर ही हरियाणा के मेवात (Mewat, Haryana) में हिदुओं पर अत्याचार किया जा रहा है.

उन्होंने कहा ये बहुत बड़ा नेक्सस है. इसके बाद भी मौलाना साद की गिरफ्तारी नहीं हो रही है. बंसल ने कहा कि विकास दुबे (Vikas Dubey) की गिरफ्तारी महज 150 घंटे में हो गयी, लेकिन मौलाना साद की गिरफ्तारी साढ़े तीन महीने में भी नहीं हो पायी.

बांग्लादेशी नागरिकों को दी गई जमानत

बता दें कि निजामुद्दीन मरकज मामले में शुक्रवार को 82 बांग्लादेशी नागरिकों को जमानत दे दी गयी. इससे पहले बुधवार को साकेत कोर्ट (Saket Court) ने 42 विदेशी लोगों को तबलीगी जमात में शामिल होने के मामले में जमानत दे दी थी. जमानत पाने वालो में फिलीपींस, फिजी, आस्ट्रेलिया समेत कई देशों के नागरिक हैं.

इन आरोपियों को वीजा शर्तों समेत अन्य नियमों के उल्लंघन के आरोप में गिरफ्तार किया गया था. इसी तरह मंगलवार को भी निजामुद्दीन मरकज में भाग लेने वाले 122 मलेशियाई नागरिकों को वीजा शर्तों और नियमों का उल्लंघन करने के मामले में जमानत मिल गई थी.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

Related Posts