VIDEO: क्या पी चिदंबरम ने गमलों में गोभी लगाकर कमाए करोड़ों रुपए? जानें सच

वायरल वीडियो में कहा जा रहा है कि पी चिदंबरम ने अपने बंगले की बालकानी में गमले में 7 करोड़ की गोभी उगाई है. आखिर इसका सच क्या है जानिए इस खबर में.

पूर्व वित्तमंत्री पी चिदंबरम की गिरफ्तारी के बाद हर तरफ चर्चा उन पर लग रहे करोड़ों के घोटाले की है…लेकिन चिदंबरम के बारे में उससे भी ज्यादा हैरान करने वाला दावा आजकल सोशल मीडिया पर घूम रहा है. कहा जा रहा है कि चिदंबरम ने अपने बंगले की बालकनी में गमले में 7 करोड़ की गोभी उगाई है…आखिर इसका सच क्या है जानिए इस खबर में.

एक साल में 7 करोड़ रुपए कमाएं जा सकते हैं.?

हर कोई पूछ रहा है…जानने को बेताब हैं…हैरान हैं-परेशान हैं..कि भला चिदंबरम ने बालकनी के गमलों में कैसे उगाई होगी. क्या गमले में गोभी उगाकर एक साल में 7 करोड़ रुपए कमाएं जा सकते हैं.

गोभी वाला फॉर्मूला टॉप ट्रेंड

सोशल मीडिया में पी चिदंबरम के गमले में गोभी वाला फॉर्मूला टॉप ट्रेंड कर रहा है..अलग-अलग तस्वीरों और कॉमेंट्स की लाइन लग गई है

लेकिन सवाल ये है कि आखिर भ्रष्टाचार में घिरे चिदंबरम की गिरफ्तारी के बाद अचानक 7 करोड़ की गोभी का जिक्र क्यों आ गया…इस खबर में कितनी सच्चाई है. क्या बालकनी के गमले में करोड़ों की गोभी उगाई जा सकती है.

बर्खास्त इनकम टैक्स अधिकारी ने किया दावा

2 मिनट 11 सेकेंड का ये वीडियो इस दावे के साथ सोशल मीडिया में वायरल हुआ कि जो शख्स चिदंबरम की बालकनी के गमले में करोड़ों की गोभी उगाने का दावा कर रहा है वो इनकम टैक्स अधिकारी है.

वो बता रहा है कि किस तरह पी चिदंबरम ने गमलों में गोभी उगाकर कृषि घोटाला किया और करोड़ों रुपए कमाए. बस इसी के बाद से गमले में 7 करोड़ की गोभी की चर्चा पूरे हिंदुस्तान में शुरु हो गई..सोशल मीडिया में हलचल फैल गई.

वायरल इनकम टैक्स अधिकारी का सच

जून 2019 में सरकार ने संजय श्रीवास्तव बर्खास्त भ्रष्टाचार की शिकायतों पर सरकार ने बर्खास्त किया संजय पर धोखाधड़ी पद का दुरुपयोग के मामले दर्ज कर 9 अगस्त को सीबीआई कोर्ट ने भगोड़ा घोषित किया.

वीडियो काफी पुराना

चिदंबरम की बालकनी में 7 करोड़ की गोभियों के बारे में बताने वाला वीडियो भी संजय श्रीवास्तव ने नोएडा के इसी दफ्तर में बनाया था. ये वीडियो काफी पुराना है लेकिन चिदंबरम के सुर्खियों में आते ही ये वीडियो वायरल हो गया.

गोभी को लेकर जो कहा जा रहा वह बेबुनियाद है

जिस वक्त चिदंबरम वित्त मंत्री थे. उस दौरान राज्यमंत्री रहे जे डी सेलम ने सोशल मीडिया पर चल रही खबरों को कोरी अफवाह करार दिया. यानी ये साफ हो गया कि 7 करोड़ की गोभी को लेकर जो कहा जा रहा है. वो सब बेबुनियाद है.