ड्रग्स रखने के अपराध में नेस वाडिया को जापान में 2 साल की जेल, जिन्ना से जिंटा तक का कनेक्शन जानिए

वाडिया ग्रुप के वारिस नेस वाडिया को जापान में दो साल जेल की सज़ा सुनाई गई है. उन्हें नशा रखने के अपराध में ये सजा झेलनी पड़ी है लेकिन ये पहला मौका नहीं जब नेस कोर्ट-कचहरी के चक्कर में पड़े हों.

 283 साल पुराने वाडिया ग्रुप के उत्तराधिकारी नेस वाडियो को जापान में 2 साल की जेल की सजा सुनाई गई है. जापान के सपोरो जिले की अदालत से उन्हें ये सज़ा ड्रग्स रखने के अपराध में सुनाई गई. सजा 5 साल तक सस्पेंड रहेगी लेकिन इस बीच यदि नेस जापान में कोई अपराध करते धरे गए तो सीधा जेल जाएंगे.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार वाडिया को 20 मार्च से पहले कुछ दिन जापान पुलिस की हिरासत में भी रखा गया था. 25 ग्राम कैनाबिस यानि भांग रखने के जुर्म में उन्हें जापान के होक्काइडो टापू के न्यू चितोसे एयरपोर्ट से गिरफ्तार कर लिया गया था. नेस जापान में छुट्टी मनाने पहुंचे थे. फिलहाल नेस ने जमानत ले ली है. उन्होंने निजी इस्तेमाल के लिए नशा रखने की बात कबूली थी.वाडिया ग्रुप ने बताया है कि नेस अब भारत में हैं। चूंकि उन्हें दी गई सज़ा 5 साल के लिए सस्पेंड कर दी गई है इसलिए नेस अपना कामकाज जारी रखेंगे.

दरअसल 2019 में जापान रग्बी वर्ल्ड कप का आयोजक है और 2020 में टोक्यो ही ओलंपिक्स भी आयोजित करेगा, ऐसे में वहां नशे को लेकर कानून का पालन सख्ती से हो रहा है. जैसे ही वाडिया से जुड़ी ये खबर भारत पहुंची वैसे ही ग्रुप की कंपनियों के शेयर में 17% तक की गिरावट दर्ज की गई. बाद में शेयर कुछ संभले.

कौन हैं नेस वाडिया?
नेस का विवादों से नाता नया नहीं है. 2014 में एक आईपीएल मैच के दौरान नेस पर अभिनेत्री प्रीति जिंटा ने प्रताड़ना का आरोप लगाया था. चार साल बाद मुंबई पुलिस ने मामले में चार्जशीट फाइल की लेकिन प्रीति ने केस वापस ले लिया. प्रीति और उनके बीच लंबे समय तक संबंध रहे थे.

वैसे नेस वाडिया का कारोबारी परिचय ये है कि वो वाडिया ग्रुप के चेयरमैन नुस्ली वाडिया के बड़े बेटे हैं. वो आईपीएल टीम किंग्स इलेवन पंजाब के मालिकों में से एक हैं. उनके ग्रुप के पास बॉम्बे डाइंग, बॉम्बे बर्मन ट्रेडिंग, ब्रिटानिया बिस्किट इंडस्ट्रीज़, गो एयर एयरलाइन जैसी कंपनियां हैं जिनका कुल बाज़ार मूल्य करीब 91,700 करोड़ रुपए बैठता है. खुद नुस्ली की नेटवर्थ करीब 7 अरब डॉलर यानि 49 हजार करोड़ रुपए है.

उनका एक दिलचस्प परिचय ये भी है कि वो दीना वाडिया के पोते हैं जो पाकिस्तान के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना की इकलौती बेटी थीं. दीना ने पारसी व्यापारी नेविल वाडिया से शादी कर ली थी जिस वजह से जिन्ना ने अपनी बेटी से रिश्ते पूरी तरह खत्म कर लिए थे. विभाजन के बाद दीना पाकिस्तान नहीं गईं. उनकी शादी महज़ पांच साल तक टिकी. नेविल और दीना की दो संतानें – नुस्ली वाडिया और डायना वाडिया हैं. नेस वाडिया नुस्ली के बेटे हैं.