दिल्‍ली पुलिस ने श्रीनगर से गिरफ्तार से किया 2 लाख का इनामी आतंकी

फैयाज की गिरफ्तारी दिल्‍ली पुलिस के लिए बड़ी कामयाबी है. वह 2015 से फरार चल रहा था.

नई दिल्ली/श्रीनगर: दिल्ली पुलिस ने श्रीनगर से जैश ए मोहम्मद के आतंकवादी फैयाज अहमद लोन को गिरफ्तार कर लिया. घाटी में आतंक का दूसरा नाम बन चुके फैयाज अहमद पर दो लाख रुपए का इनाम रखा गया था.

2007 में फैयाज और 2 कश्मीरी आतंकी एक पाकिस्तानी आतंकी को हथियार और विस्फोटक सप्लाई करने आए थे. इसके पीछे दो मकसद थे. पहला- दिल्ली में किसी बड़ी आतंकी वारदात को अंजाम देना और दूसरा- दिल्ली में पहले से मौजूद पाकिस्‍तानी आतंकी को कश्मीर ले जाकर उसे जैश के डिविजनल कमांडर की तरह लॉन्‍च करना.

2015 में जारी हुआ था गैरजमानती वारंट 

फैयाज की इस साजिश की भनक दिल्‍ली पुलिस को लग गई थी. जिसके बाद सेल की टीम ने DDU मार्ग पर एनकाउंटर के बाद फैयाज समेत 2 कश्मीरी आतंकी और एक पाकिस्‍तानी आतंकी को गिरफ्तार किया था, लेकिन 2007 में ही निचली अदालत ने फैयाज को बरी कर दिया था.

दिल्‍ली पुलिस ने दिल्ली हाईकोर्ट में अपील की और कोर्ट ने 2015 में इस अपील पर इन सभी को उम्रकैद की सजा सुनाकर गैरजमानती वारंट भी जारी किया था.

बाकी फरार साथियों की तलाश 

फैयाज 2015 से फरार चल रहा था, फैयाज के ऊपर 2 लाख रुपए का इनाम भी रखा था. फैयाज जैश ए मोहम्मद का ओवर राउंड कमांडर था. स्पेशल सेल को फैयाज के श्रीनगर में होने का स्पेशल इनपुट मिला था. इसके बाद ये जानकारी जम्‍मू-कश्‍मीर पुलिस के साथ साझा की गई.

गिरफ्तारी के बाद फैयाज को जम्‍मू-कश्‍मीर की निचली अदालत में पेश किया गया, जिसके बाद उसे ट्रांजिट रिमांड पर दिल्ली लाया गया है. दिल्‍ली लाए जाने के बाद उसे दिल्ली हाईकोर्ट में पेश कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया. अब दिल्‍ली पुलिस का स्पेशल सेल बाकी फरार साथियों के बारे में जानकारी जुटा रहा है.