वारिस पठान की जुबान पर ओवैसी ने लगाया ‘ताला’, दिया था ’15 करोड़ 100 करोड़ पर भारी’ वाला बयान

असदुद्दीन ओवैसी ने वारिस पठान पर अनिश्चितकाल के लिए मीडिया बैन कर दिया है.ओवैसी ने कहा है कि जब तक पार्टी की ओर से ना कहा जाए, तब तक वारिस पठान कोई भी बात नहीं करेंगे.

आल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुसलमीन (एआईएमआईएम) चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने वारिस पठान को जमकर फटकार लगाई है. असदुद्दीन ओवैसी ने वारिस पठान पर अनिश्चितकाल के लिए मीडिया बैन कर दिया है. असदुद्दीन ओवैसी ने कहा है कि जब तक पार्टी की ओर से ना कहा जाए, तब तक वारिस पठान कोई भी बात नहीं करेंगे. साथ ही उन्हें सार्वजनिक तौर पर कोई भी बयान देने की मनाही है.

इस मामले में अब एआईएमआईएम के सांसद और महाराष्ट्र इकाई के अध्यक्ष इम्तियाज जलील का बयान आया है. उन्होंने कहा कि वारिस पठान के बयान को गलत तरीके से पेश किया गया है. हमारी पार्टी और वारिश पठान की कोई पॉलिसी नहीं है कि इस तरह का बयान करें और किसी को निशाना बनाये.

उन्होंने कहा कि किसी धर्म और जाति को लेकर हमारी पार्टी इस तरह के बयान का समर्थन नहीं करती है. लोगों में गुस्सा है कि इतने दिनों से आंदोलन चल रहा है लेकिन सरकार खामोश है. ओवैसी साहब ने यह पहले ही साफ कर दिया है कि संविधान के अनुसार जो हक है उसके अनुसार काम करें किसी भी तरह की बयानबाजी नहीं करें जो संविधान के खिलाफ हो.

इम्तियाज जलील ने कहा कि वारिश पठान की भूमिका को साफ करते हुए कहा कि उनके बातों को अलग तरीके से पेश किया गया है, लेकिन उसके बावजूद अगर ओवैसी साहब कोई जांच करना चाहते है तो वो फैसला सभी को मंजूर है.

दरअसल, हाल ही में वारिस पठान ने कर्नाटक के गुलबर्ग में एक जनसभा के दौरान विवादित बयानबाजी करते हुए कहा था कि 100 करोड़ पर 15 करोड़ भारी पड़ेंगे. पठान ने अपने बयान में सीधे तौर पर तो जिक्र नहीं किया, लेकिन वह हिंदू-मुस्लिम आबादी को लेकर बात कर रहे थे. बता दें कि वारिस पठान ने अपने विवादित बयान पर माफी मांगने से भी साफ इनकार कर दिया है.

ये भी पढ़ें – 

‘100 करोड़ पर भारी 15 करोड़,’ AIMIM नेता वारिस पठान का भड़काऊ बयान, माफी मांगने से भी इनकार

Related Posts