Chandrayaan2: लैंडिंग प्रोसेस शुरू, क्लिक करें और बनें इस ऐतिहासिक लम्हे के गवाह

क्लिक करें और देखे सीटे इसरो से लाइव वीडियो...

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को चंद्रयान-2 के चंद्रमा की सतह पर उतरने के ऐतिहासिक क्षण को देखने के लिए बेंगलुरू पहुंच गए हैं. एक अधिकारी ने आईएएनएस से कहा, “मोदी येलहांका स्थित वायुसेना अड्डे पर 9.40 बजे पहुंचे. वह यहां एक स्टार होटल में ठहरेंगे, जो कि अंतरिक्ष एजेंसी इसरो मुख्यालय के करीब है. वह विक्रम की चांद की लैंडिंग को 1.30 बजे से रात 2.30 बजे तक देखेंगे.”

राज्यपाल वजुभाई वाला, मुख्यमंत्री बी.एस. येदियुरप्पा, केंद्रीय मंत्री सदानंद गौड़ा एवं प्रहलाद जोशी, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष नलिन कुमार कतील वायुसेना अड्डे पर प्रधानमंत्री की अगवानी के लिए मौजदू थे. मोदी इसरो के टेलीमेट्री, ट्रैकिंग और कमांड नेटवर्क में रात एक बजे पहुंचेंगे और लैंडिंग देखने के बाद तीन बजे वापस होटल लौटेंगे. मोदी इस दौरान देशभर से आए 70 छात्रों से भी बातचीत करेंगे और उन्हें संबोधित करेंगे.

अधिकारियों ने कहा कि मोदी उपग्रह नियंत्रण केंद्र(एससीसी), इसरो टेलीमेट्री, ट्रैकिंग एंड कमांड नेटवर्क (आईएसटीआरएसी) के जरिए चंद्रयान-2 के चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर उतरने की अंतिम प्रक्रिया का साक्षी बनेंगे। इसके साथ ही वह ‘स्पेस क्विज’ के विजेताओं के साथ बातचीत भी करेंगे.

‘स्पेस क्विज’ कक्षा 8 से 10 तक के विद्यार्थियों के लिए आयोजित किया गया था और इसमें विजयी विद्यार्थियों को इसरो में चंद्रयान-2 के चंद्रमा पर उतरने की अंतिम प्रक्रिया को देखने के लिए आमंत्रित किया गया है. अधिकारियों ने कहा कि इसरो में मोदी के आने से अंतरिक्ष वैज्ञानिकों का मनोबल बढ़ेगा और युवाओं को एक आविष्कारी मानसिकता विकसित करने की प्रेरणा भी मिलेगी.

वहीं मोदी ने कहा कि चंद्रयान-2 “दिल से भारतीय, आत्मा से भारतीय मिशन है! जो हर भारतीय को रोमांचित कर देगा, सच तो यह है कि यह पूरी तरह स्वदेशी मिशन है.” इसरो ने अपने बयान में कहा, “लैंडर विक्रम भारतीय समयानुसार देर रात 1.00-2.00 बजे के बीच चंद्रमा की सतह पर उतरना शुरू करेगा और 1.30 से 2.30 बजे तक चंद्रमा की सतह पर उतर जाएगा.”