पहाड़ों में भारी बर्फबारी और मैदानों में बारिश के आसार, श्रीनगर में आवाजाही ठप्प

देश के पर्वतीय क्षेत्रों में हो रही बर्फबारी का असर बिहार के मौसम में भी देखा जा रहा है. बर्फीली और ठंडी हवाओं की वजह से पटना सहित बिहार के कई जिले कड़ाके की ठंड की चपेट में हैं.
weather update today, पहाड़ों में भारी बर्फबारी और मैदानों में बारिश के आसार, श्रीनगर में आवाजाही ठप्प

पंजाब और हरियाणा में सोमवार को शीत लहर थम गई है और तापमान बढ़ने के साथ-साथ मध्यम बारिश शुरू हो गई है. मौसम विभाग ने क्षेत्र में बड़े पैमाने पर बारिश होने की संभावना जताई है. पंजाब और हरियाणा में कुछ स्थानों पर मूसलाधार बारिश के साथ ओले भी पड़ सकते हैं और गुरुवार तक छिटपुट स्थानों पर भारी बारिश की संभावना है. मौसम विभाग ने कहा कि मंगलवार को घना कोहरा छा सकता है.

पंजाब और हरियाणा की संयुक्त राजधानी चंडीगढ़ में न्यूनतम तापमान 11.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो रविवार के तापमान 9.7 डिग्री से ज्यादा रहा. मौसम विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि दोनों राज्यों में न्यूनतम तापमान सामान्य से एक से 6 डिग्री ज्यादा रहा. पवित्र शहर अमृतसर, लुधियाना और पटियाला में न्यूनतम तापमान क्रमश: 10.2 डिग्री, 9.1 डिग्री और 8.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

पड़ोसी राज्य हरियाणा में 6.8 डिग्री सेल्सियस तापमान के साथ करनाल सबसे ठंडा रहा, वहीं अंबाला और नारनौल दोनों जगहों में 8.5 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया. सिरसा में 12.7 डिग्री, भिवानी में 7.8 डिग्री और हिसार में 11.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

कश्मीर घाटी में बर्फबारी से जनजीवन प्रभावित

कश्मीर घाटी सोमवार को बर्फ की मोटी चादर में लिपटी हुई है और भारी बर्फबारी के कारण जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है. हालांकि, मौसम विभाग के अधिकारी ने मंगलवार से राहत की संभावना व्यक्त की है. भारी बर्फबारी के चलते श्रीनगर की तरफ आने वाली और वहां से जाने वाली सभी उड़ानों को रद्द कर दिया गया है. इसके साथ रास्ट्रीय राजमार्ग को भी बंद किया गया है.

घाटी के मैदानी और ऊंची पहाड़ी वाले इलाकों में भारी बर्फबारी हुई है. श्रीनगर में 12 सेंटीमीटर, गुलमर्ग में 27 सेंटीमीटर और पहलगाम में 21.5 सेंटीमीटर बर्फबारी हुई है.

बर्फबारी के कारण कश्मीर घाटी में तापमान में गिरावट आई है. श्रीनगर में रात का तापमान शून्य से 1.8 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया. गुलमर्ग में शून्य से पांच डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया, जबकि पहलगाम में न्यूनतम तापमान शून्य से 2.7 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज हुआ.

मौसम विभाग ने अपने अनुमान में सोमवार को और अधिक बर्फबारी होने की बात कही है, जबकि मंगलवार को जम्मू-कश्मीर में अलग-अलग स्थानों पर हल्की से सामान्य बर्फबारी होने के आसार हैं.

weather update today, पहाड़ों में भारी बर्फबारी और मैदानों में बारिश के आसार, श्रीनगर में आवाजाही ठप्प

श्रीनगर में मौसम कार्यालय के एक अधिकारी ने कहा, “आज बर्फबारी होगी, हम सिर्फ कल से मौसम में सुधार देखेंगे.”

बर्फबारी के कारण सड़क संपर्क मार्ग अवरुद्ध हो जाने के बाद बड़ी संख्या में घाटी के कई गांवों का संपर्क टूट गया है. गुरेज और तंगधार जैसे दूरदराज के इलाके भी अलग-थलग पड़ गए हैं. सड़कों पर बर्फ जमा होने के कारण यात्रियों को यात्रा करने में कठिनाई हो रही है.

अब्दुल अहद, श्रीनगर में जिनका ऑफिस उनके घर से महज दो किलोमीटर दूर है, ने कहा, “इतनी बर्फ जमा होने से मैं सोच रहा हूं कि अपने दफ्तर तक कैसे पहुंच सकूंगा.”

बर्फबारी के कारण कश्मीर घाटी में कई स्थानों पर बिजली आपूर्ति बाधित हो गई है. श्रीनगर के लाल बाजार में आदिल अहमद ने कहा, “रात में बिजली चली गई. हमें उम्मीद है कि इसे जल्द ही बहाल कर दिया जाएगा.”

इस साल कश्मीर में कई दौर की बर्फबारी हुई है. नवंबर में हुई बेमौसम बर्फबारी ने तबाही मचाई और दक्षिण कश्मीर के ऊपरी इलाकों में सेब के बागों को बड़े पैमाने पर नुकसान पहुंचाया था.

मनाली में और अधिक बर्फबारी

लोकप्रिय पर्यटन स्थल मनाली में और अधिक बर्फबारी हुई, जबकि हिमाचल प्रदेश की निचली पहाड़ियों में हल्की बारिश होने से तापमान में गिरावट आई है. मौसम विज्ञान विभाग के निदेशक मनमोहन सिंह ने सोमवार को आईएएनएस को बताया कि बुधवार तक शिमला, कुल्लू, किन्नौर, लाहौल-स्पीति और चंबा जिलों में भारी बर्फबारी होने के आसार हैं.

होटल मालिक बर्फबारी से खुश हैं, क्योंकि इससे उन्हें और ज्यादा पर्यटकों के आने की उम्मीद है.

यहां मौसम विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि शिमला और उसके आस-पास के पर्यटन स्थल जैसे कुफरी, फागू और नरकंडा, जो अभी भी पिछले सप्ताह हुई बर्फबारी के कारण बर्फ से ढके हुए हैं, में और अधिक बर्फबारी होने की संभावना है.

राज्य की राजधानी से 250 किलोमीटर दूर मनाली और सोलंग और कल्पा में पिछले 24 घंटों के दौरान ताजा हिमपात हुआ.

weather update today, पहाड़ों में भारी बर्फबारी और मैदानों में बारिश के आसार, श्रीनगर में आवाजाही ठप्प

उन्होंने कहा, “रविवार से ऊंची पहाड़ी वाले इलाकों में सामान्य से लेकर भारी बर्फबारी हो रही है, जबकि मध्यम और निचली पहाड़ियों में बारिश हुई है.”

शिमला का न्यूनतम तापमान 7.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो रविवार के 5.1 डिग्री सेल्सियस के मुकाबले ज्यादा रहा.

लाहौल और स्पीति जिले का केलांग शून्य से छह डिग्री सेल्सियस नीचे तापमान दर्ज होने के साथ राज्य में सबसे ठंडा जगह रहा. यहां 45 सेंटीमीटर बर्फबारी हुई.

धर्मशाला में तापमान 4.8 डिग्री सेल्सियस, कल्पा में शून्य से 3.3 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज हुआ, जबकि 15.2 सेंटीमीटर बर्फबारी देखी गई. डलहौजी में यह 4.2 डिग्री और मनाली में शून्य से 0.8 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज हुआ.

चंबा जिले में स्थित भरमौर और डलहौजी दोनों जगहों पर क्रमश: 15.2 मिलीमीटर और चार मिलीमीटर बारिश हुई.

बिहार में बर्फीली हवाओं ने बढ़ाई गलन

देश के पर्वतीय क्षेत्रों में हो रही बर्फबारी का असर बिहार के मौसम में भी देखा जा रहा है. बर्फीली और ठंडी हवाओं की वजह से पटना सहित बिहार के कई जिले कड़ाके की ठंड की चपेट में हैं. सोमवार को सुबह घना कोहरा छाया रहा तथा बर्फीली पछुआ हवा से गलन बढ़ गई है. इस बीच, तापमान में भी रविवार की तुलना में सोमवार को गिरावट दर्ज की गई है. पटना का सोमवार को न्यूनतम तापमान 8.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया.

मौसम विभाग के मुताबिक, सोमवार को पूरे दिन ठंड सताएगी और मंगलवार से स्थिति में सुधार हो सकता है.

weather update today, पहाड़ों में भारी बर्फबारी और मैदानों में बारिश के आसार, श्रीनगर में आवाजाही ठप्प

पटना मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार, सोमवार को भागलपुर का न्यूनतम तापमान 9.0 डिग्री सेल्सियस, गया का 6.0 डिग्री तथा पूर्णिया का 9.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

मौसम विभाग का कहना है कि एक-दो दिनों तक अधिकतम और न्यूनतम तापमान में अंतर काफी कम रहेगा जिससे 24 घंटे ठंड की स्थिति बनी रहेगी. दोपहर बाद हल्की धूप निकलने की संभावना है लेकिन, बर्फीली हवा चलने की वजह से धूप की तपिश का असर नहीं दिखेगा.

राजधानी पटना का सोमवार को अधिकतम तापमान 15 से 17 डिग्री सेल्सियस के बीच बने रहने की संभावना है. रविवार को पटना का न्यूनतम तापमान 8.4 डिग्री सेल्सियस तथा गया 5.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था.

Related Posts