वर्ल्ड बैंक ने भारत की विकास दर का अनुमान घटाकर 6 प्रतिशत किया

अप्रैल में अपने आखिरी पूर्वानुमान में, वर्ल्ड बैंक ने अप्रैल से शुरू होने वाले चालू वित्त वर्ष के दौरान भारत की आर्थिक वृद्धि 7.5 प्रतिशत रहने का अनुमान लगाया था.
वर्ल्ड बैंक, वर्ल्ड बैंक ने भारत की विकास दर का अनुमान घटाकर 6 प्रतिशत किया

वर्ल्ड बैंक ने शनिवार को भारत की आर्थिक वृद्धि दर का अनुमान लगाते हुए इसे घटाकर 6 प्रतिशत कर दिया है. अप्रैल में अपने आखिरी पूर्वानुमान में, वर्ल्ड बैंक ने अप्रैल से शुरू होने वाले चालू वित्त वर्ष के दौरान भारत की आर्थिक वृद्धि 7.5 प्रतिशत रहने का अनुमान लगाया था.

हालांकि देश वर्तमान में छह साल में अपनी सबसे धीमी गति से बढ़ रहा है. भारत के औद्योगिक उत्पादन में भी अगस्त महीने में छह साल की अवधि में सबसे तेजी से सुस्ती आई है. अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के प्रयास में, भारतीय रिजर्व बैंक ने इस साल ब्याज दरों में पांच बार कटौती की है. साथ ही अपने ग्रोथ रेट के अनुमान को 6.9 प्रतिशत से घटाकर 6.1 प्रतिशत कर दिया था.

पिछले हफ्ते, रेटिंग एजेंसी मूडीज इन्वेस्टर्स सर्विस ने भारत के लिए अपने विकास के अनुमान को चालू वित्त वर्ष के लिए 6.2 प्रतिशत से घटाकर 5.8 प्रतिशत कर दिया था. विश्व बैंक के हाल में आए अनुमान ने भी इसी तरह की चिंताओं को हाइलाइट किया है. बैंक ने कहा कि उसे उम्मीद है कि अर्थव्यवस्था धीरे-धीरे ठीक हो जाएगी.

ये भी पढ़ें: 30 साल पहले जया बच्चन ने अमिताभ को क्यों कहा अपना तीसरा बच्चा, जानें…

Related Posts