मायावती के सपने पर लगाई थी अखिलेश ने रोक, योगी करेंगे अब पूरा

मायावती ने जो करने की ठानी उस पर अखिलेश सरकार ने अड़ंगा लगा दिया लेकिन अब योगी आदित्यनाथ मायावती का सपना पूरा करने जा रहे हैं.

यूपी की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती के सपने को अब यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पूरा करने जा रहे हैं. बात सुनने में अजीब भले लगे लेकिन ये सच है. दरअसल सूबे की राजधानी लखनऊ में रेलवे क्रॉसिंग पर एक आरओबी बनाया जाना था जिसका एलान यूपी की पूर्व सीएम मायावती ने किया था. राज्य की पिछली एसपी सरकार के कार्यकाल में माल एवेन्यू मार्ग पर मायावती के बंगले के सामने ओवर ब्रिज तो बनवाया गया लेकिन मायावती का वादा अखिलेश की सरकार ने पूरा नहीं किया.

क्या है पूरा मामला
आपको बता दें कि लखनऊ के रेलवे क्रॉसिंग पर एक आरओबी बनाया जाना था. इसका ऐलान बीएसपी प्रमुख मायावती ने किया था. राज्य की पिछली एसपी सरकार के कार्यकाल में माल एवेन्यू मार्ग पर ओवर ब्रिज बनवाया गया था जिस पर से कोई भी मायावती के बंगले में झांक सकता था. मायावती को ये बड़ा नागवार गुज़रा और उन्होंने बाकायदा प्रेस कॉन्फ्रेंस करके मामले को उठाया.  मायावती ने ऐलान भी किया था कि अब प्रदेश में उनकी सरकार आई, तो विक्रमादित्य मार्ग पर ओवरब्रिज बनाया जाएगा. आपको बता दें कि  विक्रमादित्य मार्ग पर समाजवादी पार्टी का कार्यालय होने के साथ ही  सपा के नेताओं के निजी बंगले हैं.

बसपा की सरकार तो नहीं आई लेकिन योगी आदित्यनाथ की सरकार बहन जी की उस इच्छा को पूरा कर सकती है. जानकारी के मुताबिक विक्रमादित्य मार्ग से पिपराघाटऔर सुलतानपुर रोड से जोड़ने वाली दिलकुशा रेलवे क्रॉसिंग पर रेलवे ओवर ब्रिज बनाने की कवायद शुरू हो गई है.

अखिलेश सरकार में पूरा नहीं हो सका ये काम 
विक्रमादित्य मार्ग पर रेलवे ओवर ब्रिज बनने का प्रस्ताव सपा सरकार के समय से ही लटका है. उस दौरान विक्रमादित्य मार्ग और माल एवेन्यू रोड दोनों पर पुल बनाने का प्रस्ताव आया था लेकिन सरकार ने माल एवेन्यू रोड वाले रेलवे ओवर ब्रिज को इजाजत दे दी, लेकिन दूसरे का मामला रुक गया. इसी पर तब मायावती ने प्रेस कांफ्रेंस करके विक्रमादित्य मार्ग पर भी वैसा ही ब्रिज बनाने की बात कही थी.

वीवीआईपी के घर होंगे प्रभावित 
विक्रमादित्य मार्ग पर आरओबी बनने से लॉरेटो चौराहा, कालिदास मार्ग चौराहा पर वीवीआईपी मूवमेंट के दौरान ट्रैफिक रोकने के लिए जरूरत नहीं पड़ेगी. माल एवेन्यू मार्ग पर ट्रैफिक का लोड घट जाएगा. विक्रमादित्य मार्ग को पिपराघाट पुल और सुल्तानपुर रोड से जोड़ने वाले आरोबी से ही सीएम समेत अन्य वीवीआईपी की फ्लीट सीधे एयरपोर्ट जा सकेगी. इसके साथ ही सुलतानपुर रोड और पिपराघाट जाने के लिए सोमनाथ द्वार का चक्कर नहीं लगाना पड़ेगा.