Covid-19: 1000 लोगों पर आजमाई जाएगी Zydus Cadila की वैक्सीन, आज दूसरे फेज का क्लीनिकल ट्रायल

15 जुलाई, 2020 से शुरू हुए पहले चरण में क्लीनिकल ट्रायल (Clinical Trial) में स्वस्थ वॉलंटियर्स (Healthy Volunteers) को दी जाने वाली वैक्सीन (Vaccine) की खुराक को अच्छी तरह से सहन करने वाला पाया गया था.
ZyCoV-D second phase clinical trial, Covid-19: 1000 लोगों पर आजमाई जाएगी Zydus Cadila की वैक्सीन, आज दूसरे फेज का क्लीनिकल ट्रायल

दवाइयां बनाने वाली कंपनी Zydus Cadila ने बुधवार को अपने एक बयान में कहा कि कंपनी एंटी-कोरोनावायरस डिजीज  वैक्सीन (Anti-Coronavirus Disease Vaccine) का गुरुवार यानि आज दूसरे चरण का क्लीनिकल ट्रायल (Clinical Trial) शुरू करेगी. ZyCoV-D के दूसरे चरण में करीब हजार हेल्दी एडल्ट वॉलंटियर्स पर ट्रायल किया जाएगा.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

स्वस्थ वॉलंटियर्स को दी गई ZyCoV-D

Zydus Cadila ने कहा, “Covid-19 से निपटने के लिए बनाई गई प्लास्मिड डीएनए वैक्सीन ZyCoV-D का पहला क्लीनिकल ट्रायल चरण सुरक्षित और सफल रहा था. कंपनी अब 6 अगस्त, 2020 से दूसरे चरण का क्लीनिकल ट्रायल शुरू करेगी. 15 जुलाई, 2020 से शुरू हुए चरण एक में क्लीनिकल ट्रायल में स्वस्थ वॉलंटियर्स को दी जाने वाली वैक्सीन की खुराक को अच्छी तरह से सहन करने वाला पाया गया था.”

वैक्सीन को जानवरों पर किए गए प्री-क्लीनिकल टोक्सिसिटी में सुरक्षित, इम्युनोजेनिक और अच्छी तरह से सहन करने वाला पाया गया था. वैक्सीन एनिमल स्टडी में एंटीबॉडी को बेअसर करने के एक उच्च स्तर को प्राप्त करने में सक्षम थी. 2 जुलाई को ह्यूमन ट्रायल (Human Trial) के लिए कंपनी को सेंट्रल ड्रग्स कंट्रोलर (Central Drugs Controller) द्वारा अनुमति मिली थी.

Zydus Cadila के चेयरमैन पंकज आर. पटेल का कहना है कि ZyCoV-D की सुरक्षा को स्थापित करने के लिए पहला चरण एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर साबित हुआ. पहले चरण के क्लीनिकल ट्रायल में सभी विषयों को क्लीनिकल फ़ार्माकोलॉजिकल यूनिट में सुरक्षा के लिए 24 घंटे के लिए पोस्ट करने और उसके 7 दिनों के बाद वैक्सीन को बहुत सुरक्षित पाया गया था. हालांकि कंपनी ने ट्रायल के रिजल्ट्स को अभी तक सार्वजनिक नहीं किया है.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts