मोदी के फोटोशूट पर बवाल के बाद जानें जिम कॉर्बेट टूर का सरकारी टाइम टेबल

सरकारी टाइम टेबल में पीएम के टूर प्रोग्राम के मुताबिक मोदी सुबह 8 बजकर 55 मिनट पर जिम कॉर्बेट के ढिकाला क्षेत्र में पहुंचे थे और दोपहर 2 बजकर 5 मिनट पर यहां से रवाना हो गए थे.

नई दिल्ली: क्या पुलवामा हमले से पहले पीएम मोदी का जिम कॉर्बेट दौरा खत्म हो चुका था ? क्या फोटो शूट के बहाने पीएम  मोदी पर कांग्रेस बेबुनियाद आरोप लगा रही है? क्या  जिम कॉर्बेट दौरे के दौरान देर शाम तक पीएम के यहां रुकने का राहुल गांधी का दावा खोखला है? अचानक ये तमाम सवाल इसलिए अहम हो गए हैं कि पुलवामा हमले के दिन पीएम के कार्यक्रम की सरकारी समय सारिणी मीडिया को मिली है. इसके मुताबिक पीएम मोदी जिम कॉर्बेट में अपने सभी कार्यक्रम निपटाने के बाद दोपहर 2 बजकर 5 मिनट पर ढिकाला क्षेत्र से बोट के जरिए कालागढ़ डैम के लिए रवाना हो गए थे. तय कार्यक्रम के मुताबिक दोपहर 3 बजकर 5 मिनट पर पीएम मोदी कालागढ़ डैम से अफजलगढ़ हेलिपैड के पहुंच चुके थे.
खास बात ये कि सरकारी टाइम टेबल में पीएम के टूर प्रोग्राम के मुताबिक मोदी सुबह 8 बजकर 55 मिनट पर जिम कॉर्बेट के ढिकाला क्षेत्र में पहुंचे थे और दोपहर 2 बजकर 5 मिनट पर यहां से रवाना हो गए थे, जबकि पुलवामा में सीआऱफीएफ के काफिले पर दोपहर करीब 3 बजकर 10 मिनट पर हमला हुआ था. 14 फरवरी को पीएम के टूर का जो टाइम टेबल सामने आया है अगर इसे सही माना जाए तो ये तय है कि जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क में पीएम मोदी का फोटो शूट सेशन पुलवामा हमले से पहले ही खत्म हो चुका था. लेकिन सवाल ये भी है कि क्या टाइम टेबल के हिसाब से ही पीएम के सभी कार्यक्रम संपन्न हो गए थे या फिर मौसम की खराबी की वजह से कार्यक्रम में देरी हुई थी?
कांग्रेस और बीजेपी में जुबानी जंग
इससे पहले राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा था कि  ‘पुलवामा में 40 जवानों की शहादत की खबर के तीन घंटे बाद भी ‘प्राइम टाइम मिनिस्टर’ फिल्म शूटिंग करते रहे। देश के दिल व शहीदों के घरों में दर्द का दरिया उमड़ा था और वे हंसते हुए दरिया में फोटोशूट पर थे.’  राहुल ने अपने ट्वीट हैंडिल पर इससे संबंधित कुछ फोटो भी शेयर किए थे. राहुल के इस ट्वीट के बाद सरकार की ओर से पीएम के जिम कॉर्बेट दौरे का टाइम टेबल जारी किया गया. इससे पहले बीजेपी ने भी कहा था कि कांग्रेस सुबह की तस्वीर को शाम की तस्वीर बताकर लोगों को भ्रमित कर रही है. बीजेपी ने राहुल के आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए कहा कि राहुल गांधी ने जो फोटो शेयर किए हैं, वो 14 फरवरी को पुलवामा में हुए आतंकी हमले से पहले की हैं. राहुल के ट्वीट का जवाब देते हुए बीजेपी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर लिखा, ‘राहुल जी, भारत आपकी फर्जी खबरों से थक गया है. देश को गुमराह करने के लिए 14 फऱवरी की सुबह की तस्वीरें साझा करना बंद करें. हो सकता है कि आपको हमले की सूचना पहले से थी, लेकिन भारत के लोगों को शाम को पता चला. अगली बार एक बेहतर स्टंट अपनाएं, जिसमें सैनिकों का बलिदान शामिल न हों.’
सरकार के दावे से अलग है मीडिया रिपोर्ट
अंग्रेजी दैनिक ‘द टेलिग्राफ’ के मुताबिक पुलवामा हमले के दिन 14 फरवरी को पीएम  नरेंद्र मोदी दोपहर ढाई बजे मोटरबोट से जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क के ढिकाला इलाके में पहुंचे थे जबकि पुलमामा में हमला दोपहर 3 बजकर 10 मिनट पर हुआ था. माना जाता है कि हमले की गंभीरता को देखते हुए सुरक्षा एजेंसियों ने स्वभाविक तौर पर इससे पीएम मोदी को तुरंत अवगत कराने की कोशिश की होगी. ‘द टेलिग्राफ’ के मुताबिक दोपहर ढाई बजे से शाम 4 बजे के बीच पीएम मोदी ने जिम कॉर्बेट के अंदर  फोटो शूट समेत कई गतिविधियों में हिस्सा में लिया. जिम कॉर्बेट में दाखिल होते वक्त उन्होंने विजिटर बुक में गुजराती भाषा में अपनी ओर से संदेश भी लिखा था. जिम कार्बेट में कार्यक्रम के दौरान मोदी पुराने एफआरएच रेस्ट हाउस पहुंचे, जहां उन्होंने लंच किया. पीएम ने यहां अपने मोबाइल फोन से काले हिरण की फोटो भी खींची. इसके बाद मोदी खिनानौली गेस्ट हाउस पहुंचे, जहां फिल्म की शूटिंग पूरी हुई. मोदी शाम 4 बजे यहां से करीब 110 किलोमीटर दूर रुद्रपुर में एक रैली को मोबाइल फोन के जरिए संबोधित किया, हालांकि मोबाइल नेटवर्क खराब होने की वजह से पीएम को अपना स्पीच 5 मिनट में ही खत्म करना पड़ा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *