बीजेपी सांसद हेगड़े ने महात्मा गांधी के सत्याग्रह को बताया ड्रामा, विपक्ष ने पीएम मोदी से मांगा जवाब

बीजेपी सांसद हेगड़े ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की भूख हड़ताल और सत्याग्रह सहित बड़े आंदोलनों को नाटक बता दिया. उन्होंने महात्मा गांधी पर अंग्रेजों के साथ मिली भगत का भी आरोप लगाया.
Anant Kumar Hegde calls Mahatma Gandhi Dramebaaz, बीजेपी सांसद हेगड़े ने महात्मा गांधी के सत्याग्रह को बताया ड्रामा, विपक्ष ने पीएम मोदी से मांगा जवाब

बीजेपी सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े ने महात्मा गांधी की आजादी की लड़ाई को ड्रामा बताया है. उन्होंने कहा कि लड़ाई अंग्रेजों की इजाजत से किया गया ड्रामा था. यह असल लड़ाई नहीं थी. यह बनावटी संघर्ष था.

हेगड़े ने रविवार को एक कार्यक्रम में महात्मा गांधी की आजादी की लड़ाई को अंग्रेज प्रायोजित ड्रामा बताया. उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता की लड़ाई के पीछे अंग्रेजों की इजाजत थी. हेगड़े के अनुसार गांधी के स्वतंत्रता संग्राम को ब्रिटिश सरकार का समर्थन प्राप्त था. उस दौर के तथाकथित बड़े नेताओं को पीटा नहीं गया.

‘ सत्याग्रह और भूख हड़ताल से नहीं मिली आजादी ‘

हेगड़े ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की भूख हड़ताल और सत्याग्रह सहित बड़े आंदोलनों को नाटक बता दिया. उन्होंने महात्मा गांधी पर अंग्रेजों के साथ मिली भगत का भी आरोप लगाया.

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा, ” जो लोग कांग्रेस को सपोर्ट करते हैं, उनका मानना है कि भारत को आजादी सत्याग्रह और भूख हड़ताल करने से मिली. यह सच नहीं है. अंग्रजों ने देश को सत्याग्रह की वजह से नहीं छोड़ा. अंग्रेजों ने हमें निराशा और हार की वजह से आजादी दी. जब मैं इतिहास पढ़ता हूं तो मेरा खून खौलता है. गांधी जैसे लोग हमारे देश में महात्मा बन जाते हैं.

पहले भी विवादित बयान देते रहे हैं हेगड़े

हेगड़े 6 बार लोकसभा सांसद रह चुके हैं. साल 2014 से 2019 तक केंद्र सरकार में कौशल विकास मंत्री रहे हैं. ये कोई पहली बार नहीं है कि बीजेपी नेता ने इस तरह का विवादित बयान दिया है. साल 2017 में हेगड़े संविधान पर टिप्पणी कर चर्चा में आए थे. उन्होंने कहा था कि बीजेपी उस संविधान को बदल देगी जिसमें धर्मनिरपेक्ष शब्द लिखा है. अभी रविवार को ही उन्होंने कहा कि बेंगलुरु को हिंदुत्व की राजधानी बना देनी चाहिए.

हेगड़े के बयान पर हमलावर हुआ विपक्ष

हेगड़े के इस विवादित बयान पर विपक्षी पार्टियां हमलावर हो गई हैं. कर्नाटक कांग्रेस की पूर्व मंत्री और विधायक प्रियंका हेगड़े ने कहा कि यह लाइमलाइट में बने रहने का तरीका है. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि हेगड़े के इस बयान पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रतिक्रिया का इंतजार है.

Awaiting Narendra Modi who invokes Mahatma Gandhi at the drop of a hat especially when repackaging his ideas & to gain international credibility to comment on Mr Hegde who is a senior BJP Leader.https://t.co/LfPD74PLnE

— Abhishek Singhvi (@DrAMSinghvi) February 3, 2020

कांग्रेस के सासंद बी के हरिप्रसाद ने हेगड़े को देश के पहले उग्रवादी नाथूराम गोडसे की औलाद बताया है. कांग्रेस नेता ने कहा कि हेगड़े से कुछ और बोलने की उम्मीद भी नहीं की जा सकती. इसके अलावा एनसीपी नेता माजिद मेमन ने सरकार से हेगड़े के बयान पर अपना स्टैंड साफ करने की मांग की है.

केंद्रीय राज्य स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री अश्विनी चौबे ने हेगडे़ पर कहा है कि मैंने उनका बयान सुना नहीं है, लेकिन अगर उन्होंने ऐसा कहा है तो ये सर्वथा अनुचित है.  महात्मा गांधी पर कोई गलत टिप्पणी नहीं की जानी चाहिए.

ये भी पढ़ें – 

Delhi Assembly election: कपिल मिश्रा ने कहा, ‘AAP का नया नाम होना चाहिए मुस्लिम लीग’

संसद शुरू होते ही गूंजा CAA-NRC-NPR का मुद्दा, शाहीन बाग और जामिया पर भी हो रहा हंगामा

Related Posts