नई रिसर्च का दावा, सीजनल वायरस की तरह हो जाएगा कोरोना, इस मौसम में रहेगा ज्यादा खतरा

दोहा में कतर विश्वविद्यालय के सहयोगी लेखक डॉ. हादी यासीन ने पुष्टि की और कहा कि कोरोना वायरस (Corona Virus) से प्रतिरक्षा क्षमता मिलने से पहले कोविड-19 के फैलने के कई चरण देखने को मिल सकते हैं. शोधकर्ताओं का कहना है कि यह वायरस नमी के मौसम में सबसे ज्दा खतरनाक होगा.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 4:24 pm, Sat, 19 September 20
coronavirus

सार्स-कोव-2 वायरस से होने वाली बीमारी कोविड-19 (Covid-19) कुछ देशों में सीजनल बीमारी के रूप में हो जाएगी. नम जलवायु वाले सीजन में यह बीमारी एक बार फिर अपना सिर उठाएगी. यह निष्कर्ष फ्रंटियर इन पब्लिक हेल्थ पत्रिका में प्रकाशित हुआ. इस निष्कर्ष में दावा किया गया है कि यह बीमारी पूरे मौसम में प्रसारित होती रहेगी. नमी या उमस भरे मौसम में यह वायरस ज्यादा खतरनाक होगा. फिलहाल, वायरस को नियंत्रित करने के लिए अभी जरूरी उपाय सुनिश्चित करना चाहिए.

इस रिसर्च के अध्ययनकर्ता हसन जारकेट ने अमेरिकन यूनिवर्सिटी ऑफ बेरुत से लेबनान में अध्ययन किया है. हसन का कहना है कि ”कोरोना वायरस (Corona Virus) साल भर तक प्रकोप पैदा करता रहेगा जब तक कि उसकी प्रतिरक्षा क्षमता हासिल नहीं हो जाती. इसलिए पब्लिक को इस वायरस के साथ जीना सीखना होगा. इसके साथ ही इस वायरस से बचने के लिए जरूरी उपाय जैसे मास्क पहनना, शारीरिक दूरी, हाथ की स्वच्छता और भीड़-भाड़ वाले समारोहों में जाने से बचना सीखना होगा.”

दोहा में कतर विश्वविद्यालय के सहयोगी लेखक डॉ. हादी यासीन ने पुष्टि की और कहा कि वायरस से प्रतिरक्षा क्षमता मिलने से पहले कोविड-19 की फैलने के कई चरण देखने को मिल सकते हैं. शोधकर्ताओं का कहना है कि हवा में और सरफेस पर वायरस का अस्तित्व, संक्रमण के प्रति लोगों की संवेदनशीलता और मानव व्यवहार, जैसे कि इनडोर भीड़, तापमान में परिवर्तन के कारण अलग-अलग मौसम में भिन्न होते हैं. कई तरह के जुकाम फैलाने वाले वायरस सर्दी में ज्यादा प्रभावित करते हैं. इस तरह के परिवर्तन साल के अलग-अलग समय में वायरस को फैलने में मदद करते हैं.

भारत में 53 लाख से ज्यादा मामले

भारत में शनिवार को कोविड-19 के 93,337 मामले सामने आए. जिसके बाद देश भर में संक्रिमितों की कुल संख्या 5,308,014 हो गई. देश में सिर्फ 11 दिनों के भीतर ही कोरोना के मामले 40 लाख से बढ़कर 50 लाख हो गए हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक शनिवार को 95880 मरीज कोरोना से ठीक हुए. अब तक कोरोना से 4,208,431 मरीज ठीक हो चुके हैं. वहीं शनिवार को 1,247 लोगों की कोरोना से जान जा चुकी है. इस आंकड़े के आने के बाद देश भर में कोरोना से मरने वाले मरीजों की संख्या 85,619 हो गई है. देश भर में अभी 1,013,964 कोरोना के एक्टिम मामले हैं.