Stone pelting In delhi, मौजपुर में CAA के समर्थकों और विरोधियों के बीच भिड़ंत, 12 घायल
Stone pelting In delhi, मौजपुर में CAA के समर्थकों और विरोधियों के बीच भिड़ंत, 12 घायल

मौजपुर में CAA के समर्थकों और विरोधियों के बीच भिड़ंत, 12 घायल

शाहीन बाग में सीएए के खिलाफ चल रहे विरोध प्रदर्शन के समर्थन में रविवार को जाफराबाद और चांदबाग में लोग सड़कों पर उतर आए. बीजेपी नेता कपिल मिश्रा अपने समर्थकों के साथ विरोध कर रहे लोगों को हटाने के लिए खुद मैदान में उतर गए.
Stone pelting In delhi, मौजपुर में CAA के समर्थकों और विरोधियों के बीच भिड़ंत, 12 घायल

दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ शाहीन बाग में चल रहे विरोध प्रदर्शन के समर्थन में रविवार को मौजपुर, जाफराबाद, चांदबाग समेत कई इलाकों में लोग सड़कों पर उतर आए. बीजेपी नेता कपिल मिश्रा खुद समर्थकों के साथ सड़कों पर उतरे और सीएए का विरोध करने वालों को हटाने की बात कही. जाफराबाद में तो सीएए समर्थक और विरोधी आमने-सामने आ गए.

घटनास्थल पर सुरक्षाबल बड़ी संख्या में तैनात होने के बावजूद यहां सीएए के समर्थकों और विरोधियों के बीच जमकर पत्थरबाजी हुई. इस पत्थरबाजी में 12 लोग घायल हुए हैं. इन सब प्रदर्शनों से इतर शाहीन बाग में चल रहे प्रोटेस्ट के खिलाफ सरिता विहार के लोगों का भी गुस्सा रविवार को फूट पड़ा. शाहीन बाग प्रदर्शन के चलते लगातार जाम की समस्या का सामना कर रहे सरिता विहार के लोगों ने जल्द से जल्द सड़क को खाली कराने की मांग रखी.

उधर मौजपुर, जाफराबाद, चांदबाग समेत कई इलाकों में बड़ी संख्या महिलाएं भी सीएए का विरोध करने उतरीं. प्रदर्शनकारी हाथों में तिरंगा लिए हुए सड़कों पर नजर आए. हालांकि कई बार भीड़ उग्र होती भी दिखाई दी.

समर्थन और विरोध में हो रहे प्रदर्शन को देखते हुए सीलमपुर रोड को बंद कर दिया था, लेकिन करीब 10 बजे इस सड़क को खोल दिया गया है, ताकि वाहनों की आवाजाही सामान्य रूप से चलती रहे. प्रदर्शन स्थल पर बड़ी संख्या में पुलिस के जवानों को तैनात किया है, ताकि कोई अप्रिय घटना न हो.

CAA के विरोध में चांदबाग में वजीराबाद की एक तरफ की सड़क बंद करके लोग विरोध पर बैठे हुए हैं. कुछ लोग डिवाइडर पर मोमबत्ती लेकर खड़े हुए हैं. वहीं, पुलिस ने मामले पर पूरी तरह से काबू पाने के बाद फ्लैग मार्च कर इस बात को सुनिश्चित किया कि इलाके में शांति व्यवस्था कायम रहे.

Stone pelting In delhi, मौजपुर में CAA के समर्थकों और विरोधियों के बीच भिड़ंत, 12 घायल

पूर्वी रेंज के ज्वाइंट कमिश्नर आलोक कुमार ने बताया कि स्थिति अब नियंत्रण में है. लेकिन अभी कई सारे लोग सड़कों पर हैं. हम लगातार स्थानीय नेताओं से बात कर रहे हैं ताकि इलाके में शांति बनी रहे.

जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के पास सीएए के खिलाफ लोगों का प्रदर्शन जारी है. हालात पर काबू पाने के लिए जफराबाद और आस-पास के इलाके में सीआरपीएफ को तैनात कर दिया गया है. ईस्ट डिस्ट्रिक्ट के डीसीपी समेत अन्य इलाकों के डीसीपी भी बुलाए गए हैं. साथ ही अर्ध सैनिक बल की कुछ और कंपनियां बुलाई गई हैं.

रिपोर्ट के मुताबिक, पथराव के दौरान भीड़ ने एक लड़के को पकड़ लिया और बुरी तरह से उसकी पिटाई कर दी. हालांकि भीड़ से ही कुछ लोग निकलकर आए और उस लड़के को बचाकर ले गए.

Stone pelting In delhi, मौजपुर में CAA के समर्थकों और विरोधियों के बीच भिड़ंत, 12 घायल

कपिल मिश्रा ने ट्वीट करके दिल्ली पुलिस को सड़कें खाली करवाने के लिए तीन दिन का समय दिया है.

दरअसल, शनिवार देर रात करीबन 200 से 300 महिलाओं ने आकर मेट्रो के नीचे प्रदर्शन करना शुरू कर दिया था, जिसके बाद वहां बड़ी संख्या में पुलिस के जवान और अर्धसैनिक बलों को तैनात किया गया. महिला प्रदर्शनकारियों को देखते हुए महिला जवानों को भी तैनात किया गया है.

फिलहाल जिस रास्ते पर प्रदर्शनकारी बैठे हैं, वहां एक तरफ रोड खुली हुई है जिसकी वजह से जाम भी लग रहा है. प्रदर्शनकारी महिलाओं ने रोड नंबर 66 जाम कर रखा है, जिस सड़क पर महिलाएं प्रदर्शन कर रही हैं, वह सड़क सीलमपुर को मौजपुर और यमुना विहार से जोड़ती है.

प्रदर्शनकारी महिलाओं ने बताया कि शाहीन बाग की तरह वे भी सीएए और एनआरसी के खिलाफ प्रदर्शन करेंगी. सभी महिलाओं ने हाथ में तिरंगा लिया हुआ है और आजादी के नारे भी लगा रही हैं. साथ ही प्रदर्शन में शामिल कई महिलाओं ने अपनी बांह पर नीला बैंड लगा रखा है और जय भीम का नारा लगा रही है.

भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद ने प्रमोशन में आरक्षण को लेकर आज 23 फरवरी को भारत बंद बुलाया था, जिसका असर भी देश में देखने को मिला और प्रदर्शनकरियों का ये भी कहना था कि भारत बंद को देखते हुए भी हमने ये सड़क बंद किया है.

भाजपा नेता विजय गोयल ने आईएएनस से जाफराबाद में हो रहे प्रदर्शन के मामले पर कहा, “यह नियोजित तरीके से हो रहा है, विपक्षी दल इसके पीछे हैं जो मोदी जी को हरा नहीं पाए. कानून संसद में पास किया गया है उसके बाद इस तरीके से करना गलत है और अभी इसको फैलाया जा रहा है.”

उन्होंने आगे कहा, “पुलिस चाहती तो कोई भी एक्शन ले सकती थी, लेकिन बच्चे-महिलाएं हैं. इस वजह से हम नहीं चाहते की किसी तरीके की हिंसा हो. केजरीवाल को तो बस राजनीति करनी है.”

ये भी पढ़ें-

दिल्ली: जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के पास पहुंची 500 लोगों की भीड़, CAA और NRC का कर रहे विरोध

बसपा सुप्रीमो मायावती ने भतीजे आकाश को दी पार्टी की बड़ी जिम्मेदारी, बनाया नेशनल कोऑर्डिनेटर

Stone pelting In delhi, मौजपुर में CAA के समर्थकों और विरोधियों के बीच भिड़ंत, 12 घायल
Stone pelting In delhi, मौजपुर में CAA के समर्थकों और विरोधियों के बीच भिड़ंत, 12 घायल

Related Posts

Stone pelting In delhi, मौजपुर में CAA के समर्थकों और विरोधियों के बीच भिड़ंत, 12 घायल
Stone pelting In delhi, मौजपुर में CAA के समर्थकों और विरोधियों के बीच भिड़ंत, 12 घायल