Jamia Firing: गोली चलाने से पहले फेसबुक लाइव था आरोपी गोपाल, लिखा- खेल खत्म

गोली चलाने वाले युवक का नाम राम भगत गोपाल शर्मा है. गोपाल ग्रेटर नोएडा के जेवर इलाके का रहने वाला है.
Jamia Facebook live, Jamia Firing: गोली चलाने से पहले फेसबुक लाइव था आरोपी गोपाल, लिखा- खेल खत्म

राजधानी दिल्ली के जामिया इलाके में सीएए के विरोध प्रदर्शन के दौरान एक शख्स ने अचानक गोली चला दी. इस फायरिंग में एक छात्र के बाएं हाथ में गोली लगी है.

डीसीपी साउथ ईस्ट दिल्ली चिन्मय बिस्वल ने बताया कि ‘जामिया फायरिंग में छात्र के बाएं हाथ में गोली लगी है. डॉक्टरों का कहना है कि वह खतरे से बाहर है. पकड़े गए आरोपी से पूछताछ की जा रही है.’

गोलीबारी करने वाले शख्स ने घटना से पहले कई बार फेसबुक लाइव किया था. एफबी लाइव में लोगों को प्रदर्शन करते देखा जा सकता है. आरोपी गोपाल के एफबी लाइव को कई सारे लोग देख रहे थे और कमेंट्स भी कर रहे थे.

इस बीच वह फेसबुक पर कुछ पोस्ट भी कर रहा था. इसमें वह बदला लेने की बात लिख रहा था. साथ ही इसे उसने अपनी अंतिम यात्रा भी बताया. उसने खेल खत्म भी लिखा.

गोली चलाने से पहले एक पोस्ट में गोपाल नाम का यह युवक लिखता है, ‘मेरी अंतिम यात्रा पर… मुझे भगवा में ले जाएं… और जय श्री राम के नारे हों.’

गोली चलाने वाले युवक का नाम राम भगत गोपाल शर्मा है. गोपाल ग्रेटर नोएडा के जेवर इलाके का रहने वाला है. उसके पिता का नाम राजेंद्र शर्मा है. राजेंद्र की पान की दुकान है. उसकी उम्र फिलहाल 19 साल है.

जिस शख्स को गोली लगी है उसका नाम शादाब है. शादाब जामिया मिलिया यूनिवर्सिटी में पत्रकारिता की पढ़ाई करता है. वह जम्मू -श्मीर के डोडो का रहने वाला बताया जा रहा है.

डीसीपी ने आईएएनएस से कहा, “गोली देसी तमंचे से चलाई गई है. आरोपी ने वैमनस्य फैलाने वाले नारे भी लगाए थे.” उधर मौके पर मौजूद प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, “गोली चलाने वाले ने साफ साफ चीख कर कहा, ‘लो ले तुम अब आजादी’ इसके बाद उसने गोली चला दी. गोली छात्रों की भीड़ की ओर पिस्तौल करके चलाई गई थी.’

गोली लगने से घायल युवक को तुरंत प्राइवेट अस्पताल में दाखिल कराया गया है. प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, ‘गोली चलाने वाले ने ‘वंदे मातरम’ और ‘भारत माता की जय’ के नारे भी लगाए.’

ये भी पढ़ें-

जामिया प्रदर्शन में पिस्‍टल लहराकर बोला युवक- आओ तुम्हें देता हूं आजादी! और चला दी गोली

Related Posts