Republic Day 2020 : दिल में देशभक्ति की अलख जगा देंगी ये लाइनें, भेजकर अपनों को करें विश

गणतंत्र दिवस पर अगर कहीं खड़े होकर बोलना पड़ जाए या स्पीच देनी पड़ जाए तो हम यहीं सोचते हैं कि शुरुआत कैसे करेंगें, लोगों को अच्छा लगेगा की नहीं, कहीं मेरा मजाक तो नहीं बन जाएगा.

देशभर में 71वें गणतंत्र दिवस की तैयारियां जोरों पर हैं. गणतंत्र दिवस के मौके पर हम प्रभावी तरीके से अपनी शुभकामनाएं और संदेश भेजना चाहते हैं. लेकिन कई बार कुछ नया न म‍िलने पर हम पुराने मैसेज ही फॉरवर्ड कर देते हैं. गणतंत्र दिवस पर अगर कहीं खड़े होकर बोलना पड़ जाए या स्पीच देनी पड़ जाए तो हम यहीं सोचते हैं कि शुरुआत कैसे करेंगे, लोगों को अच्छा लगेगा क‍ि नहीं, कहीं मेरा मजाक तो नहीं बन जाएगा. इस गणतंत्र दिवस पर आज हम आपको कुछ ऐसी पंक्तियां बताते हैं जो आप कहीं भी इस्‍तेमाल कर सकते हैं. गणतंत्र दिवस पर अगर आप कहीं बोल रहे हैं तो इन पंक्तियों से प्रभावशाली शुरुआत करिए.

यूनाँ मिस्र रोमा, सब मिट गए जहां से
बाकी मगर है अब तक, नामो निशां हमारा
कुछ बात है कि हस्ती, मिटती नहीं हमारी
सदियों रहा है दुश्मन, दौर ए जहां हमारा

भारत की इस अखंडता को
तिलभर आंच न आने पाए
हिंदू, मुस्लिम, सिख, ईसाई
मिलजुल इसकी शान बढ़ाएं

Republic day 2020 Speech, Republic Day 2020 : दिल में देशभक्ति की अलख जगा देंगी ये लाइनें, भेजकर अपनों को करें विश

आओ तिरंगा लहराये, आओ तिरंगा फहराये;
अपना गणतंत्र दिवस है आया, झूमे, नाचे, खुशी मनाये

अगर शूरवीरों को याद करना है तो ये मैसेज जरूर भेजिए.

याद रखेंगे वीरों तुमको हरदम
यह बलिदान तुम्हारा है
हमको तो है जान से प्यारा यह गणतंत्र हमारा है

 

गली गली जाएंगे, वीरों की गाथा गाएंगे
आज फिर हम गणतंत्र दिवस मनाएंगे

Republic day 2020 Speech, Republic Day 2020 : दिल में देशभक्ति की अलख जगा देंगी ये लाइनें, भेजकर अपनों को करें विश

अगर आपको हिंदुस्तान और हिंदुस्तानी होने पर गर्व है तो इन पंक्तियां को मैसेज में शुभकामनाओं के साथ भेजें.

ना पूछो ज़माने से कि क्या हमारी कहानी है
हमारी पहचान तो बस इतनी है कि हम सब हिन्दुस्तानी हैं.

ये भी पढ़ें

क्‍यों मनाते हैं गणतंत्र दिवस? जानिए पहली बार कहां हुई थी परेड