CAA Protest: प्रियंका गांधी की शिकायत पर मानवाधिकार आयोग ने लिया एक्शन, मुख्य सचिव-DGP हुए तलब

नोटिस में आगे कहा गया है कि मामले की गहराई और संवेदनशीलता को देखते हुए आयोग यह उम्मीद करता है कि रिपोर्ट को तय समय के अंदर सौंप दिया जाएगा.
National Human Rights Commission NHRC, CAA Protest: प्रियंका गांधी की शिकायत पर मानवाधिकार आयोग ने लिया एक्शन, मुख्य सचिव-DGP हुए तलब

राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) ने उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव और डीजीपी को नोटिस भेजा है. नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ राज्य में हुए प्रदर्शन के दौरान पुलिस की ओर से बरती गई निर्दयता को लेकर यह नोटिस भेजा गया है.

नोटिस में कहा गया है कि इस मामले में छह हफ्ते के भीतर एक विस्तृत रिपोर्ट सौंपी जाए. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने इसे लेकर एनएचआरसी में शिकायत दर्ज कराई थी.

नोटिस में कहा गया है कि ‘शिकायत में दर्ज आरोपों को देखते हुए आयोग ने यह सही समझा है कि यूपी के मुख्य सचिव और डीजीपी को नोटिस जारी की जाए. आयोग इस मामले में छह हफ्ते के भीतर एक विस्तृत और स्पष्ट रिपोर्ट की मांग करता है.’

नोटिस में आगे कहा गया है कि मामले की गहराई और संवेदनशीलता को देखते हुए आयोग यह उम्मीद करता है कि रिपोर्ट को तय समय के अंदर सौंप दिया जाएगा.

प्रियंका गांधी ने एनएचआरसी में दर्ज कराई गई अपनी शिकायत में उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा उठाए गए गैरकानूनी और क्रूर कदम के खिलाफ जांच की मांग की गई थी. सीएए और एनआरसी के विरोध में आम लोगों के प्रदर्शन के दौरान राज्य सरकार द्वारा कानून व्यवस्था बनाए रखने में फेल होने की शिकायत की गई थी.

एनएचआरसी ने कहा है कि यूपी के लखनऊ और कानपुर जिले में पुलिस द्वारा ताकत का गलत इस्तेमाल करने और प्रदर्शनकारियों के खिलाफ जरूरत से ज्यादा कड़ाई बरतने को लेकर और भी कई शिकायतें मिली हैं.

दूसरी तरफ, प्रियंका गांधी ने सोमवार को सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर आरएसएस पर निशाना साधा. कोर्ट ने कहा था कि प्रमोशन में आरक्षण का दावा करने का कोई मौलिक अधिकार नहीं है और राज्य नियुक्तियों में आरक्षण देने के लिए बाध्य नहीं हैं.

प्रियंका गांधी ने आरोप लगाते हुए कहा, “यह समझें कि भाजपा किस तरह से आरक्षण को खत्म करना चाहती है. पहले आरएसएस आरक्षण नीति के खिलाफ बयान देता है, फिर उत्तराखंड सरकार सुप्रीम कोर्ट से अपील करती है कि आरक्षण मौलिक अधिकार नहीं है.”

ये भी पढ़ें-

अयोध्या तीर्थ विकास परिषद का गठन करेगी यूपी सरकार, योगी आदित्यनाथ होंगे अध्यक्ष

शाहीन बाग में मासूम की मौत पर SC सख्त, पूछा- 4 महीने का बच्चा प्रदर्शन करने कैसे जा सकता है?

CAA के विरोध में जामिया छात्रों का संसद मार्च, सुरक्षाबलों ने होली फैमिली हॉस्पिटल के पास रोका

Related Posts