PM मोदी ने निर्मला सीतारमण को दी बधाई, बोले- दशक का पहला बजट, जिसमें विजन और एक्शन है

पीएम मोदी ने कहा, "किसान की आय दोगुनी हो, इसके प्रयासों के साथ ही, 16 एक्शन प्वाइंट्स बनाए गए हैं जो ग्रामीण क्षेत्र में रोजगार को बढ़ाने का काम करेंगे."
PM Narendra Modi, PM मोदी ने निर्मला सीतारमण को दी बधाई, बोले- दशक का पहला बजट, जिसमें विजन और एक्शन है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को संसद में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा पेश किए गए बजट पर अपनी प्रतिक्रिया दी है. पीएम मोदी ने कहा कि मैं इस दशक के पहले बजट के लिए, जिसमें विजन भी है, एक्शन भी है, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी और उनकी टीम को बहुत-बहुत बधाई देता हूं.

पीएम मोदी ने कहा, “बजट में जिन नए रिफॉर्म्स का ऐलान किया गया है, वो हमारी अर्थव्यवस्था को गति देने, देश के प्रत्येक नागरिक को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने और इस दशक में अर्थव्यवस्था की नींव को मजबूत करने का काम करेंगेप.”

उन्होंने कहा कि रोजगार के प्रमुख क्षेत्र होते हैं- एग्रीकल्चर, इंफास्ट्रक्चर, टेक्सटाइल और टेक्नोलॉजी. इम्प्लॉयमेंट जनरेशन को बढ़ाने के लिए इन चारों बिंदुओं पर इस बजट में बहुत जोर दिया गया है.

पीएम मोदी ने कहा, “किसान की आय दोगुनी हो, इसके प्रयासों के साथ ही, 16 एक्शन प्वाइंट्स बनाए गए हैं जो ग्रामीण क्षेत्र में रोजगार को बढ़ाने का काम करेंगे.”


उन्होंने कहा कि ‘बजट में कृषि क्षेत्र के लिए एकीकृत दृष्टिकोण अपनाया गया है. इससे परंपरागत तौर तरीकों के साथ ही हॉर्टिकल्चर, फिशरीज, एनीमल हस्बेंड्री में वैल्यू एडिशन बढेगा और इससे भी रोजगार बढ़ेगा.’

पीएम मोदी ने कहा, “टेक्निकल टेक्सटाइल के लिए नए मिशन की घोषणा हुई है. मैनमेड फाइबर को भारत में बनाने के लिए उसके कच्चे माल के ड्यूटी स्ट्रक्चर में रिफॉर्म किया गया है. इस रीफॉर्म की पिछले तीन दशकों से मांग हो रही थी.”

उन्होंने कहा कि ‘आयुष्मान भारत योजना ने देश के हेल्थ सेक्टर को नया विस्तार दिया है. इस सेक्टर में मानव संसाधन- डॉक्टर, नर्स, अटेनडेंट के साथ ही मेडिकल डिवाइस मैन्यूफैक्चरिंग का बहुत स्कोप बना है. इसे बढ़ाने के लिए सरकार द्वारा नए निर्णय लिए गए हैं.’


उन्होंने कहा, “टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में रोजगार जनरेशन को बढ़ावा देने के लिए इस बजट में हमने कई प्रयास किए हैं. नए स्मार्ट सिटीज, इलेक्ट्रॉनिक मैन्युफैक्चरिंग, डेटा सेंटर पार्क्स, बायो टेक्नोलॉजी और क्वांटम टेक्नोलॉजी, जैसे क्षेत्रों के लिए अनेक पॉलिसी पर काम किया गया है.”

उन्होंने कहा कि स्टार्ट अप्स और रीयल एस्टेट के लिए भी टैक्स बेनिफिट्स दिए गए हैं. ये सभी फैसले अर्थव्यवस्था को तेज गति से बढ़ाने और इसके जरिए युवाओं को रोजगार के नए अवसर उपलब्ध कराएंगे. अब हम इनकम टैक्स की व्यवस्था में, विवाद से विश्वास के सफर पर चल पड़े हैं.

ये भी पढ़ें-

टैक्स के नाम पर नहीं होगी प्रताड़ना, बजट के बाद प्रेस कांफ्रेंस में बोलीं निर्मला सीतारमण

निर्मला सीतारमण ने दिया भारत के इतिहास का सबसे लंबा बजट भाषण, तोड़ा इनका रिकॉर्ड

Budget 2020 : 5-7.5 लाख तक की आमदनी पर अब 20 के बजाय देना होगा 10 फीसदी टैक्स

Related Posts