जी-20 वर्चुअल समिट में आज हिस्सा लेंगे पीएम मोदी, Coronavirus से जंग पर बड़ी बैठक

जी-20 बैठक के दौरान कोरोना वायरस के इलाज को लेकर व्यापक चर्चा होने की उम्मीद है. इस दौरान सदस्य देश एक पैकेज की भी घोषणा कर सकते हैं.
PM Narendra Modi to attend G-20 virtual summit covid-19, जी-20 वर्चुअल समिट में आज हिस्सा लेंगे पीएम मोदी, Coronavirus से जंग पर बड़ी बैठक

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज गुरुवार को कोरोना वायरस (Coronavirus) पर आयोजित हो रही जी-20 सम्मेलन में शिरकत करेंगे. कोरोना संक्रमण की वजह से इस बार ये सम्मेलन वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से हो रहा है. इसलिए इसे जी-20 वर्चुअल समिट नाम दिया गया है.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

इस बार सऊदी अरब जी-20 सम्मेलन का आयोजन कर रही है. बुधवार को ही पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा था कि कोविड-19 महामारी का सामना करने में जी-20 एक अहम रोल अदा करने वाला है. ऐसे में माना जा रहा है कि आज की बैठक में कोरोना वायरस की रोकथाम और इसका असर कम करने के उपाय पर प्रभावी चर्चा होगी.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

हो सकती है बड़े पैकेज की घोषणा

खुद पीएम मोदी ने कहा है कि वो आज इस मुद्दे पर पर प्रभावी और लाभकारी चर्चा की उम्मीद कर रहे हैं. जी-20 बैठक के दौरान कोरोना वायरस के इलाज को लेकर व्यापक चर्चा होने की उम्मीद है. इस दौरान सदस्य देश एक पैकेज की भी घोषणा कर सकते हैं.

जी-20 शिखर सम्मेलन में 19 औद्योगिक देश और यूरोपियन यूनियन शिरकत कर रहे हैं. वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में भारतीय समयानुसार शाम 5.30 बजे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप बोलेंगे. उसी समय के आसपास पीएम मोदी समेत बाकी नेता भी बोलेंगे.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

तैयार किया जाएगा साझा एक्शन प्लान

उम्मीद की जा रही है कि वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए होने जा रहे इस सम्मेलन में कोरोना से लड़ने के लिए एक एक्शन प्लान तैयार किया जाएगा. सूत्रों के मुताबिक ये वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग गुरुवार शाम को 5.30 बजे से लकर शाम 7 बजे तक हो सकती है.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

इधर कोरोना वायरस से इस वक्त 172 देश प्रभावित हैं. जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी के आंकड़ों के मुताबिक दुनिया भर में इस बीमारी से 4 लाख 38 हजार लोग संक्रमित हो चुके हैं. जबकि इस बीमारी से मरने वालों की संख्या 19500 को पार कर चुकी है.

Related Posts