संन्यास के बावजूद मैदान पर उतरे सचिन तेंदुलकर, इस महिला गेंदबाज ने दिया था चैलेंज

मेलबर्न के जंक्‍शन ओवल पर खेले गए इस चैर‍िटी मैच में सच‍िन तेंदुलकर ने 'र‍िटायरमेंट से लौटते' हुए बल्‍लेबाजी की. मास्टर ब्लास्टर ने करीब साढ़े पांच साल बाद पहली बार क्र‍िकेट के दौरान बैट‍िंग की.
Sachin Tendulkar at Melbourne, संन्यास के बावजूद मैदान पर उतरे सचिन तेंदुलकर, इस महिला गेंदबाज ने दिया था चैलेंज

ऑस्ट्रेलिया में रविवार को जंगलों में लगी आग से प्रभावितों की मदद के लिए मेलबर्न में एक चैरिटी मैच खेला गया. मैच में पूर्व क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने भी बल्लेबाजी की. मैच के दौरान कुछ ऐसा हुआ जिसके बाद क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर के लिए एक बार फिर सोशल मीडिया पर मैसेज की बहार आ गई है. आइसीसी के ट्वीट पर लोगों की दिलचस्प प्रतिक्रियाएं आने लगी हैं. आइए आपको बताते हैं कि ऐसा क्या हुआ  है.

इस मैच के दौरान सचिन तेंदुलकर ने ऑस्ट्रेलिया की महिला गेंदबाज एलिस पैरी की चुनौती को स्वीकार किया. एलिस ने एक ओवर बॉलिंग की और सचिन ने उनकी गेंदों पर बैटिंग की. दरअसल इस मैच के ठीक एक दिन पहले पैरी ने सोशल मीडिया पर सचिन को उनकी बॉलिंग पर एक मैच खेल कर दिखाने के लिए चैलेंज किया था.

पैरी की चुनौती को स्वीकार करते हुए सचिन ने जवाब दिया कि कंधे की चोट के चलते डॉक्टर ने मुझे खेलने के लिए मना किया है, लेकिन फिर भी मैं आपका एक ओवर खेलने के लिए मैदान में उतरूंगा. सचिन ने यह भी लिखा कि मैं उम्मीद करता हूं कि जंगलों की आग से पीड़ितों के लिए काफी फंड जुटा पाएं और आप मुझे आउट भी कर सकें.

पूर्व भारतीय बल्लेबाज ने क्रिकेट से 2013 में संन्यास ले लिया था. उन्होंने मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में नवंबर 2013 में आखिरी टेस्ट खेला था. मेलबर्न के जंक्‍शन ओवल पर खेले गए इस चैर‍िटी मैच में सच‍िन तेंदुलकर ने ‘र‍िटायरमेंट से लौटते’ हुए बल्‍लेबाजी की. मास्टर ब्लास्टर ने करीब साढ़े पांच साल बाद पहली बार क्र‍िकेट के दौरान बैट‍िंग की. उन्होंने पहली ही बॉल पर चौका जड़ दिया. सचिन तेंदुलकर ने आग से पीड़ितों की मदद के लिए वर्ल्ड कप जीत का स्टंप भी नीलाम करने के लिए दे दिया.

जानकारी के मुताबिक इस मैच से 55 करोड़ रुपए से ज्यादा का फंड जुटाया गया है. ऑस्ट्रेलिया के जंगलों में लगभग चार महीने से आग भड़क रही है. प्रचंड गर्मी की वजह से इस पर काबू पाने में सफलता नहीं मिल पा रही है. हजारों लोगों को घरों से पलायन करना पड़ रहा है. अब तक 34 लोगों की मौत हो चुकी है. जुलाई से लेकर अब तक न्यू साउथ वेल्स में 70 लाख एकड़ क्षेत्र आग में जल चुका है.

 

ये भी पढ़ें-

रविदास जयंती पर वाराणसी पहुंचीं कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी, मायावती ने बताया दिखावा

अमृतसर के स्वर्ण मंदिर में TikTok बैन, कमेटी ने लगाया नोटिस

Related Posts