NPR फॉर्म नहीं भरेंगे तो चुनाव भी नहीं लड़ पाएंगे अखिलेश यादव, संजीव बालियान का पलटवार

संजीव बालियान ने कहा, "कानूनी तौर पर यही नियम है. जो नियमों का पालन नहीं करेंगे, उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी."
Sanjeev Balyan Tweets, NPR फॉर्म नहीं भरेंगे तो चुनाव भी नहीं लड़ पाएंगे अखिलेश यादव, संजीव बालियान का पलटवार

केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेता संजीव बालियान ने सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव पर हमला बोला है. बालियान ने कहा है कि अगर अखिलेश एनपीआर का फॉर्म नहीं भरेंगे तो वह चुनाव भी नहीं लड़ पाएंगे क्योंकि यही नियम है.

संजीव बालियान ने कहा, “अखिलेश यादव कहते हैं कि वह एनपीआर फॉर्म नहीं भरेंगे. अगर वह फॉर्म नहीं भरेंगे तो उन्हें चुनाव लड़ने की अनुमति भी नहीं मिलेगी. कानूनी तौर पर यही नियम है. जो नियमों का पालन नहीं करेंगे, उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी.”


बता दें कि हाल ही में अखिलेश यादव ने ऐलान किया था कि वह राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) का फॉर्म नहीं भरेंगे. इसके साथ ही उन्होंने लोगों से भी ऐसा न करने का आह्वान किया था. अखिलेश के इसी बयान पर पलटवार संजीव बालियान ने पलटवार किया है.

अखिलेश कानपुर में सीएए के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान मारे गए लोगों के परिजनों से मुलाकात की और परिवार वालों को पांच-पांच लाख रुपये की आर्थिक मदद भी दी. उन्होंने कहा कि भाजपा की सरकार अंग्रेजों की तरह ‘डिवाइड एंड रूल पॉलिसी’ पर काम कर रही है.

सपा अध्यक्ष ने कहा कि नागरिक समाज को धर्म के नाम पर बांटते हुए हिंदू-मुस्लिम में खाई पैदा की जा रही है. हिंसा में किस तरह शासन की लापरवाही की वजह से लोगों की जान गई, यह कौन नहीं जानता. लखनऊ और कानपुर में अनुभवहीन अफसरों की वजह से घटना हुई है, जो सरकार की नाकामी दर्शा रही है.

उन्होंने कहा कि प्रदेश में हुई हिंसक घटनाओं की जांच सुप्रीम कोर्ट की कमेटी से कराई जाए तो सारा सच सामने आ जाएगा. वैसे भी प्रदर्शन करने वालों पर भाजपा के इशारे पर ही हमला करवाया गया है.

अखिलेश ने कहा कि सीएए का विरोध तो पूरे देश में हुआ और हो रहा है. माहौल बिगाड़ने के साथ जानें उन्हीं जिलों में गईं, जहां पुलिस-प्रशासन ने लापरवाही बरती.

ये भी पढ़ें-

जेपी नड्डा होंगे BJP के राष्ट्रीय अध्यक्ष, 19 फरवरी को होगी ताजपोशी

यूपी में घड़ियाली आंसू बहाने आती हैं प्रियंका, लेकिन कोटा में बच्चों की मांओं से मिलने नहीं गईं: मायावती

गठबंधन कर दिल्ली में चुनाव लड़ रहीं AAP और कांग्रेस, विजय गोयल का दावा

Related Posts