मनोज शशिधर होंगे CBI के नए ज्वाइंट डॉयरेक्टर, गुजरात-कैडर के हैं IPS अधिकारी

सीबीआई के शीर्ष अधिकारियों के बीच लड़ाई के साल भर से ज्यादा समय बाद जांच एजेंसी कई वरिष्ठ अधिकारियों के फेरबदल के लिए तैयार है.

वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी मनोज शशिधर को केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) का नया ज्वाइंट डॉयरेक्टर चुना गया है. मनोज शशिधर गुजरात कैडर के 1994 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं. वह इस पद पर पांच सालों तक रहेंगे.

गौरतलब है कि सीबीआई के शीर्ष अधिकारियों के बीच लड़ाई के साल भर से ज्यादा समय बाद जांच एजेंसी कई वरिष्ठ अधिकारियों के फेरबदल के लिए तैयार है. घटनाक्रम से जुड़े एक वरिष्ठ सीबीआई सूत्र ने कहा, “वरिष्ठ अधिकारियों का फेरबदल एजेंसी में अगले दो हफ्तों में दिखाई देगा.”

उन्होंने कहा कि एजेंसी ने संयुक्त निदेशक और पुलिस उपमहानिरीक्षक स्तर के अधिकारियों की सूची तैयार की है, जो सालों से एजेंसी में एक ही पद पर हैं.

सीबीआई के एक अन्य सूत्र ने कहा कि तबादले सरकार द्वारा निर्धारित ‘रूटीन’ कार्यक्रम का हिस्सा हैं. उन्होंने कहा कि तबादले में किसी अधिकारी को ‘निशाना’ नहीं बनाया जा रहा है और यह पूरी तरह से ‘निष्पक्ष’ है.

बीते कुछ हफ्तों में सीबीआई ने पुलिस अधीक्षक, पुलिस उपाधीक्षक, निरीक्षकों और उप निरीक्षक स्तर के अधिकारियों का तबादला किया है, जो बीते कुछ सालों से एक ही पद पर थे.

सूत्र ने यह भी कहा कि सहायक निदेशक प्रवीण सिन्हा की अगुवाई में एक टीम सीबीआई के निदेशक ऋषि कुमार शुक्ला की सिफारिश के अनुसार सीबीआई के अपराध नियमावली को अपग्रेड कर रही है.

सूत्र के अनुसार, नए अपराध नियमावली में अब महत्वपूर्ण बदलाव शामिल होंगे जैसे भ्रष्टाचार रोकथाम अधिनियम और आपराधिक प्रक्रिया संहिता, इन दोनों में 2018 में संशोधन किए गए हैं.

इसमें साइबर अपराधों पर भी ज्यादा ध्यान केंद्रित होगा. एजेंसी ने कहा कि नियमावली को अंतिम बार 2005 में र्रिडाफ्ट किया गया था, उसके बाद से अपराधों में तेजी से बढ़ोतरी हुई है.

ये भी पढ़ें-

जेपी नड्डा का निर्विरोध BJP अध्यक्ष चुना जाना तय, 20 जनवरी को होगी ताजपोशी

दिल्ली चुनाव: पूर्वांचली चेहरों को टिकट देने में BJP ने की कंजूसी, सिर्फ 8 पर जताया भरोसा

दिल्ली विधानसभा चुनाव: टिकट बंटवारे में BJP ने 20 नए चेहरों पर लगाया दांव