भारत की इसी मिसाइल ने तबाह कर दिया था पाकिस्तानी F-16 विमान को

विंग कमांडर अभिनंदन ने पाकिस्तान के F-16 लड़ाकू विमान को महज 86 सेकेंड्स में ध्वस्त कर दिया था. इस दौरान अभिनंदन का मिग-21 प्लेन क्रैश हो गया था. अभिनंदन शुक्रवार को अटारी बॉर्डर से भारत पहुंचे हैं.

नई दिल्ली: पाकिस्तान के फाइटर जेट F-16 का मलबा पीओके में मिला था. ये वही विमान है जिसे विंग कमांडर अभिनंदन ने अपने MiG-21 से मार गिराया था. पाकिस्तान अपने किसी विमान के गिरने की खबर से इनकार कर रहा था, लेकिन उसके वामान का मलबा मिलने के बाद उसके झूठ की पोल खुल गई है. आइए आज आपको बताते हैं कि भारत ने किस मिसाइल का इस्तेमाल कर पाकिस्तान का F-16 विमान गिराया था.

क्या है R-73 मिसाइल

भारतीय मिग 21 के पायलट ने F-16 को गिराने के लिए जिस मिसाइल का उपयोग किया उस मिसाइल का नाम Vympel R-73 था. यह मिसाइल रूस में बनाया गया था. हवा से हवा में मार करनेवाली इस मिसाइल का इस्तेमाल 1984 से किया जा रहा है. मिसाइल की कुल लंबाई 9 फीट 7 इंच होती है. और वजन 105 किलो होता है. ये मिसाइल 30 किलोमीटर तक के निशाने को भेदने में सक्षम है. इस मिसाइल का उपयोग भारतीय वायुसेना मिगसुखोई और तेजस जैसे विमानों में भी करती है.  

हवा से हवा में मार करने वाली R-73 मिसाइल को किसी भी दिशा से दिन या रात में हवाई लक्ष्यों और डॉगफाइट के लिए डिज़ाइन किया गया है. इसका इस्तेमाल लड़ाकू विमानों हमलावरों और हमलावर विमानों पर किया जाता है. ये मिसाइल 2,500 किमी/घंटा की रफ्तार और 20 किमी की ऊँचाई पर उड़ने वाले लक्ष्यों को रोकने में सक्षम है.

 कैसे काम करता है R-73

R-73 एक संवेदनशील मिसाइल है. जो क्रायोजेनिकली कूल्ड होता है मतलब इस मिसाइल में मौजूद धातुओं को इतना ठंडा कर दिया जाता कि इसमें मौजूद अणुओं की ताकत बढ़ जाती है। यानी मिसाइल में मौजूद धातु पहले से ज्यादा ठोस और मजबूत हो जाते हैं, इसके साथ ही इसमें तापमान की भी अहम जरूरत होती है जिसकी वजह से इसे तकनीकी तौर पर हीट-डिमांडिंग मिसाइल माना जाता है ये मिसाइल पायलट के हेलमेट में लगे सेंसर से 40 ° के कोण पर मौजूद लक्ष्य को देख सकता है साथ ही उस पर निशाना भी लगा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *