CAA पर किसी से भी बात करने को तैयार अमित शाह, बोले- तीन दिन के भीतर दूंगा समय

गृहमंत्री शाह ने कहा, “कोई भी जो मुझसे सीएए से जुड़े मुद्दों पर बात करना चाहता है वो मेरी ऑफिस से इसके लिए समय ले सकता है. इसे लेकर तीन दिन के अंदर समय बता दिया जाएगा.”

  • TV9.com
  • Publish Date - 4:39 am, Fri, 14 February 20

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने गुरुवार को कहा कि वो किसी के भी साथ नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) पर बात करने के लिए तैयार हैं. शाह ने कहा कि वो इसके लिए तीन दिन के अंदर एक खास समय बता देंगे.

राजधानी दिल्ली में एक कार्यक्रम में गृहमंत्री ने कहा, “कोई भी जो मुझसे सीएए से जुड़े मुद्दों पर बात करना चाहता है वो मेरी ऑफिस से इसके लिए समय ले सकता है. इसे लेकर तीन दिन के अंदर समय बता दिया जाएगा.”

शाह ने कहा कि यह भी देखना जरूरी है कि सीएए को लेकर प्रदर्शन किनके द्वारा और किस स्तर पर हो रहा है. मुझे आज तक कोई ऐसा इंसान नहीं मिला जो समझा सके कि सीएए के किस प्रावधान के तहत उन्हें यह ऐंटी मुस्लिम लगता है. यह विरोध केवल बीजेपी के नाम पर विरोध हो रहा है.

शाह ने कहा कि अंदेशा के नाम पर आंदोलन नहीं होता है, जब एनआरसी आएगा तब इन्हें विरोध करना चाहिए था.

दिल्ली में हार के बाद सार्वजनिक तौर पर पहली बार अमित शाह ने स्वीकार किया कि उनका दिल्ली चुनावों में 45 सीटें प्राप्त करने का आकलन गलत साबित हुआ. उन्होंने कहा, “मेरा आकलन 45 सीटों का था. यह गलत साबित हुआ.”

शाह ने कहा भाजपा भले ही हार गई हो, लेकिन उसने ‘अपनी विचारधारा का विस्तार किया.’ उन्होंने अपने ईवीएम से करंट लगाने के बयान का तो बचाव किया लेकिन कहा कि भाजपा नेताओं द्वारा चुनाव प्रचार के दौरान की गईं कुछ टिप्पणियां अनुचित थीं.

राजधानी में टाइम्स नाऊ समिट में गुरुवार को उन्होंने कहा, “भाजपा ने उनसे (नेताओं के विवादित बयानों से) खुद को अलग किया था.” उन्होंने कहा कि भाजपा दिल्ली विधानसभा में जिम्मेदार विपक्ष की भूमिका निभाएगी.

भाजपा की दिल्ली विधानसभा चुनावों में करारी हार हुई है. पार्टी को सिर्फ आठ सीटें मिली हैं, जबकि आप को 62 सीटों पर जीत मिली है.

ये भी पढ़ें-

वेलेंटाइन डे पर PM मोदी को शाहीन बाग के प्रदर्शनकारियों ने किया आमंत्रित, ‘सरप्राइज गिफ्ट’ देने का भी प्लान

ईस्ट-वेस्ट मेट्रो रेलवे का दावा- उद्घाटन समारोह के लिए ममता बनर्जी को भेजा था न्योता

मध्य प्रदेश: मेनिफेस्टो का वादा नहीं हुआ पूरा तो आपके साथ उतरूंगा सड़कों पर- ज्योतिरादित्य सिंधिया