IPL अलर्ट: इन खिलाड़ियों को टूर्नामेंट से किया जाएगा बाहर! इस गलती के लिए मिलेगी सजा

संयुक्त अरब अमीरात (UAE) में चल रहे टूर्नामेंट के हर पांचवें दिन सभी खिलाड़ियों और सहयोगी स्टाफ की कोविड-19 जांच की जा रही है. टीम अधिकारियों को भी यह सुनिश्चित करने में काफी सतर्क होने की जरूरत है कि सख्त ‘बायो-बबल’ का उल्लघंन नहीं हो.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 12:03 am, Fri, 2 October 20

इंडियन प्रीमियर लीग (Indian Premier League) के दौरान ‘बायो-बबल’ (Bio Bubble) का उल्लंघन करना खिलाड़ियों के साथ ही टीमों को भी भारी पड़ सकता है. IPL 2020 के लिए बनाए गए भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के नियमों के तहत, अगर कोई भी खिलाड़ी या किसी टीम का सपोर्ट स्टाफ बायो बबल को तोड़ता है, तो उसे टूर्नामेंट से बाहर होना पड़ सकता है. साथ ही उस खिलाड़ी की फ्रेंचाइजी को एक करोड़ रूपये का भारी जुर्माना भरने के साथ पॉइंट्स टेबल में भी नुकसान झेलना पड़ सकता है.

BCCI ने टूर्नामेंट में हिस्सा ले रही सभी आठ फ्रेंचाइजी टीमों को सर्कुलकर जारी किया है जिसके मुताबिक ‘बायो-बबल’ से ‘अनधिकृत रूप से बाहर’ जाने पर खिलाड़ी या सपोर्ट स्टाफ को 6 दिन के लिए क्वारंटीन होना पड़ेगा. इसके साथ ही उस खिलाड़ी की मैच फीस भी काटी जाएगी.

ये भी पढ़ेंः IPL 2020: पैट कमिंस के सामने स्टीव स्मिथ एक ‘लोवर ऑर्डर’ बल्लेबाज की तरह खेल रहे थे: ब्रैड हॉग

अगर ऐसा दूसरी बार होता है तो 6 दिन के क्वारंटीन के अलावा एक मैच के लिए निलंबित किया जायेगा और तीसरी बार उल्लघंन करने पर खिलाड़ी को टूर्नामेंट से बाहर कर दिया जायेगा. इतना ही नहीं, फ्रेंचाइजी को उस खिलाड़ी की जगह किसी अन्य खिलाड़ी को शामिल करने की इजाजत नहीं मिलेगी.

परिवार के सदस्यों और अधिकारियों के लिए भी सख्त नियम

सर्कुलर में बताया गया है कि खिलाड़ियों को अपना डेली हेल्थ पासपोर्ट पूरा नहीं करने, GPS ट्रैकर नहीं पहनने और निर्धारित कोविड-19 टेस्ट समय पर नहीं करवाने के लिये 60,000 रूपये के करीब का जुर्माना देना पड़ सकता है. यही नियम परिवार के सदस्यों और टीम अधिकारियों के लिये भी हैं.

संयुक्त अरब अमीरात (UAE) में चल रहे टूर्नामेंट के हर पांचवें दिन सभी खिलाड़ियों और सहयोगी स्टाफ की कोविड-19 जांच की जा रही है. टीम अधिकारियों को भी यह सुनिश्चित करने में काफी सतर्क होने की जरूरत है कि सख्त ‘बायो-बबल’ का उल्लघंन नहीं हो.

अगर कोई फ्रेंचाइजी ‘किसी व्यक्ति को बबल में खिलाड़ी/सहयोगी स्टाफ से बातचीत करने की अनुमति देती है’ तो उसे पहले उल्लंघन पर एक करोड़ रूपये का जुर्माना भरना होगा. दूसरी बार ऐसा करने पर एक पॉइंट काट लिया जायेगा और तीसरे उल्लंघन के लिये दो पॉइंट काट लिये जायेंगे.

ये भी पढ़ेंः बड़ी खबर: IPL पर मंडराया फिक्सिंग का साया! बुकीज को लेकर BCCI ने दिया बड़ा बयान