DC vs RR Playing XI: मुश्ताक अली ट्रॉफी में बरसाए थे रन, अब राजस्थान को मजबूत करेगा ये खिलाड़ी!

राजस्थान रॉयल्स (Rajasthan Royals) के पास संजू सैमसन (Sanju Samson) को छोड़कर एक अच्छे भारतीय बल्लेबाज की कमी है, जो मिडिल ऑर्डर में टीम के लिए बड़ा रोल निभा सके.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 6:26 pm, Wed, 14 October 20

IPL 2020 में अभी तक दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) का प्रदर्शन बेहद शानदार रहा है. टीम ने 7 में से 5 मुकाबलों मे जीत दर्ज की है, लेकिन अपने पिछले मैच में टीम को हार का सामना करना पड़ा था. दूसरी तरफ राजस्थान रॉयल्स (Rajasthan Royals) के लिए उतार-चढ़ाव भरा टूर्नामेंट रहा है और सिर्फ 3 मैच ये टीम जीत सकी है. अपने पिछले मैच में जरूर राजस्थान ने करिश्माई जीत हासिल की थी. आज जब ये दोनों टीमें भिड़ेंगी, तो दोनों के सामने प्लेइंग इलेवन से जुड़े कुछ सवाल होंगे, जिनके जवाब तलाशने में टीमें जुटी हैं.

राजस्थान के सामने अभी तक एक स्थिर प्लेइंग इलेवन की बड़ी चुनौती रही है. टीम में कई बदलाव किए गए हैं, जिनमें से कुछ ही सफल हो सके हैं. ऐसे में दिल्ली के खिलाफ भी बदलाव होना तय है. टीम में 4 विदेशी खिलाड़ियों के स्लॉट तय हैं- स्टीव स्मिथ (कप्तान), जॉस बटलर, जोफ्रा आर्चर और बेन स्टोक्स. टीम के लिए परेशानी का कारण हैं मिडिल ऑर्डर में एक अच्छा भारतीय बल्लेबाज.

ये भी पढ़ेंः आईपीएल ने इस खिलाड़ी का किया बुरा हाल, पहले चोट लगी, अब बॉलिंग छूटी

मनन वोहरा पर दांव दिलाएगा सफलता!

शुरुआती मैचों में धूम मचाने वाले संजू सैमसन (Sanju Samson) का बल्ला पिछले 5 मैचों से खामोश है, लेकिन वो अभी भी टीम के सबसे विस्फोटक बल्लेबाज हैं. वहीं राहुल तेवतिया (Rahul Tewatia) अभी तक इस टीम के सबसे प्रभावी खिलाड़ी रहे हैं, जबकि रियान पराग ने भी पिछले मैच में टीम को जीत दिलाई. सबसे बड़ी समस्या रॉबिन उथप्पा को लेकर है. टीम के सीनियर और अनुभवी खिलाड़ी होने के नाते उनका प्रदर्शन प्रभावी नहीं रहा है. उनके बदले आए महिपाल लोमरोर भी सिर्फ एक मैच में रन बना सके.

ऐसे में किसे मौका दिया जाए? टीम के पास मनन वोहरा के तौर पर एक ऐसा बल्लेबाज है, जो टीम के लिए बड़ी राहत का काम कर सकता है. वोहरा पिछले कुछ सालों से IPL का हिस्सा रहे हैं, लेकिन हाल के सीजन में उन्हें ज्यादा मौके नहीं मिले. उन्होंने कुछ अच्छी पारियां पिछली टीमों के लिए खेली हैं और एक बार फिर वह राजस्थान के लिए अहम साबित हो सकते हैं. 49 IPL मैचों में उनके एक हजार से ज्यादा रन और 131 का स्ट्राइक रेट रहा है. पिछले साल सैयद मुश्ताक अली टूर्नामेंट में भी चंडीगढ़ के लिए दूसरे सबसे ज्यादा रन (207) बनाने वाले बल्लेबाज थे. मुख्य तौर पर एक ओपनर वोहरा मिडिल ऑर्डर में भी टीम के काम आ सकते हैं.

टीम के लिए एक और परेशानी की बात यशस्वी जायसवाल का प्रदर्शन रहा है. 19 साल का ये बल्लेबाज हालांकि अपना पहला IPL खेल रहा है, लेकिन अभी तक उम्मीद के मुताबिक बैटिंग नहीं कर पाया है. फिर भी उन्हें कम से कम एक मौका और दिया जाना चाहिए. दूसरी ओर तेज गेंदबाजों के खिलाफ दिल्ली के सलामी बल्लेबाजों की परेशानी को देखते हुए वरुण एरॉन को मौका देना सही फैसला होगा.

टीम बैलेंग बिगड़ा, फिर भी दिल्ली में बदलाव मुश्किल

दूसरी ओर, दिल्ली कैपिटल्स की टीम है, जिसके लिए अहम खिलाड़ियों की चोट ने परेशानी बढ़ाई है. अमित मिश्रा और ईशांत शर्मा के विकल्प के तौर पर तो फ्रेंचाइजी के पास अच्छे खिलाड़ी थे, लेकिन ऋषभ पंत की चोट ने टीम का बैलेंस बिगाड़ दिया है. टीम के लिए परेशानी ये है कि उनके पास कोई ऐसा विकल्प भी नहीं है, जो टीम बैलेंस को फिर से बेहतर कर सके.

पंत की चोट से पहले दिल्ली की टीम ने ज्यादातर मैचों में बिना बदलाव के टीम उतारी क्योंकि अच्छे कॉम्बिनेश के साथ जीत मिल रही थी, लेकिन अब सही कॉम्बिनेशन न होने के बावजूद पिछले मैच वाली ही टीम उतारी जा सकती है. उसका कारण है कि पिछले मैच में शामिल किए गए अजिंक्य रहाणे और एलेक्स कैरी को सिर्फ एक-एक मौके मिले हैं और इनके जैसे अंतरराष्ट्रीय अनुभव और टीम की जरूरत के मुताबिक रोल के लिए दूसरे खिलाड़ी नहीं हैं.

DC vs RR: संभावित प्लेइंग इलेवन

दिल्लीः श्रेयस अय्यर (कप्तान), पृथ्वी शॉ, शिखर धवन, अजिंक्य रहाणे, मार्कस स्टोइनिस, एलेक्स कैरी, हर्षल पटेल, अक्षर पटेल, आर अश्विन, कगिसो रबा़डा और एनरिख नॉर्खिया.

राजस्थानः स्टीव स्मिथ (कप्तान), जॉस बटलर, यशस्वी जायसवाल, संजू सैमसन, मनन वोहरा, राहुल तेवतिया, रियान पराग, श्रेयस गोपाल, कार्तिक त्यागी, जोफ्रा आर्चर और वरुण एरॉन.

ये भी पढ़ेंः धोनी के अंपायर को डराने की सच्चाई आई सामने, माही को बेवजह किया जा रहा बदनाम!

(IPL 2020 की सबसे खास कवरेज मिलेगी TV9 भारतवर्ष पर. देखिए हर रोज: ‘रेगिस्तान में महासंग्राम)