IPL 2019 में चेन्नई को फाइनल तक ले गया, अब पानी पिलाने को मजबूर, धोनी को देनी पड़ी सफाई

IPL 2020 में चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) के इमरान ताहिर (Imran Tahir) को प्लेइंग इलेवन में नहीं खिलाने को लेकर काफी चर्चा है.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 10:39 am, Wed, 14 October 20
चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी.

आईपीएल 2020 (IPL 2020) में सबकी निगाहें चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) के खेल पर हैं. इसकी कई वजहें हैं. एक, एमएस धोनी (MS Dhoni) इंटरनेशनल क्रिकेट छोड़ चुके हैं. अब केवल आईपीएल में ही दिखेंगे. दूसरा, चेन्नई आईपीएल की सबसे कामयाब टीमों में से है. तीसरा, बाकी टीमें जहां युवाओं पर जोर देती है. वहीं सीएसके अनुभव को तरजीह देती है. आईपीएल 2018 के बाद से टीम इसी तरह खेल रही है. लेकिन आईपीएल 2020 में यह पैंतरा कारगर साबित नहीं हो रहा है. टीम के खराब प्रदर्शन के बीच कई खिलाड़ियों को खेलने का मौका न मिलने की बातें भी सिर उठा रही है. ऐसा ही एक खिलाड़ी है इमरान ताहिर (Imran Tahir). उन्हें इस सीजन में अभी तक टीम में शामिल होने का इंतजार है. जबकि आईपीएल 2019 में ताहिर ने सबसे ज्यादा विकेट लिए थे. पर्पल कैप जीती थी.

IPL 2019 और ताहिर की फिरकी

ताहिर ने आईपीएल 2019 में 17 मैचों में 26 विकेट लिए थे. 12 रन देकर चार विकेट उनका बेस्ट प्रदर्शन था. चेन्नई के फाइनल तक पहुंचने में उनका बड़ा रोल था. क्योंकि विकेट लेने के साथ ही ताहिर रन देने में भी कंजूसी बरतते हैं. पिछले सीजन में उनकी इकनॉमी रेट 6.69 था. यानी हर ओवर में सात से कम रन. उन्होंने औसतन प्रत्येक 15वीं गेंद पर विकेट लिया. उस सीजन में वे पहले ही मैच से सीएसके का हिस्सा थे.

सितंबर में कैरेबियन प्रीमियर लीग (सीपीएल) में भी ताहिर की गेंदों ने बल्लेबाजों को खूब नचाया था. उन्होंने 11 मैच में 15 विकेट लिए थे. सबसे ज्यादा विकेट लेने वालों में वे तीसरे पायदान पर थे. इस तरह से ताहिर की फिरकी अभी भी कमाल कर रही है.

सीएसके के कोच स्टीफन फ्लेमिंग, बैटिंग कोच डेविड हसी के साथ इमरान ताहिर.

आधा आईपीएल गुजरा, कब आएंगे ताहिर

फिर भी आईपीएल 2020 में ताहिर को मौका नहीं मिला. अभी तक चेन्नई आठ मैच खेल चुकी है मगर ताहिर प्लेइंग इलेवन से दूर हैं. कई एक्सपर्ट और फैंस भी मांग कर चुके हैं कि उन्हें खिलाना चाहिए. लेकिन ताहिर केवल 12वें प्लेयर के रूप में ही दिख रहे हैं. वे मैदान में कभी पानी तो कभी ग्लव्स लेकर जा रहे हैं. इस टूर्नामेंट में अभी भी गेंद फेंकने का उनका इंतजार जारी है.

ताहिर और धोनी क्या बोले

13 अक्टूबर को सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ मैच के दौरान ताहिर कई बार दिखे. मैदान पर खिलाड़ियों की मदद के अलावा कमेंटेटर्स ने भी उनसे बात की. इसी दौरान जब उनसे पूछा गया कि इस सीजन में अभी तक खेलने का मौका नहीं मिला है. ताहिर का जवाब था कि वे सीएसके का हिस्सा है और इससे खुश हैं.

चेन्नई के कप्तान एमएस धोनी से भी ताहिर के प्लेइंग इलेवन में न होने के बारे में सवाल किया गया. धोनी ने जवाब में कहा कि इमरान ताहिर के बारे में उन्होंने सोचा था. लेकिन टीम कॉम्बिनेशन की वजह से ऐसा हो नहीं पा रहा है.

फैंस का कहना है कि इमरान ताहिर को ऐसे देखकर ठीक नहीं लगता.

क्यों ताहिर को नहीं मिल रही जगह

बता दें कि भारत में मैच होने पर चेन्नई की पिच के हिसाब से सीएसके में स्पिनर्स का बोलबाला रहता था. लेकिन यूएई में आईपीएल होने से सीएसके को बना-बनाया सेटअप बदलना पड़ा. फिर प्लेइंग इलेवन में चार से ज्यादा विदेशी प्लेयर नहीं हो सकते हैं. इस वजह से भी सीएसके के लिए ताहिर को खिलाना मुश्किल हो रहा है. अभी शेन वॉटसन, फाफ डु प्लेसी, ड्वेन ब्रावो और सैम करन विदेशी प्लेयर के रूप में खेलते हैं. अब इनमें से किसी को भी बाहर करना दूभर है. क्योंकि किसी एक के भी बाहर जाने से सीएसके का पूरा बैलेंस ही गड़बड़ हो जाएगा.

छह साल, तीन टीमें और 79 विकेट

इमरान ताहिर ने अभी तक 55 आईपीएल मैचों में 79 विकेट लिए हैं. वे पहली बार साल 2014 में आईपीएल में शामिल हुए थे. पहले दो साल तो दिल्ली डेयरडेविल्स के साथ थे. फिर राइजिंग पुणे सुपरजाएंट और अब चेन्नई सुपरकिंग्स का हिस्सा हैं.

(IPL 2020 की सबसे खास कवरेज मिलेगी TV9 भारतवर्ष पर. देखिए हर रोज: ‘रेगिस्तान में महासंग्राम)