IPL 2020: जो खिलाड़ी 8 मैचों तक बेंच पर बैठा रहा, उसने 9वें मैच में तहलका मचा दिया

IPL 2020: लॉकी फर्ग्यूसन (Lockie Ferguson) की गेंदों ने सनराइजर्स हैदराबाद (Sunrisers Hyderabad) के बल्लेबाजों की सारी उम्मीदों पर पानी फेर दिया.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 10:28 pm, Sun, 18 October 20
लॉकी फर्ग्यूसन.

न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज लॉकी फर्ग्यूसन (Lockie Ferguson) ने आईपीएल 2020 (IPL 2020) के अपने पहले ही मैच में रंग जमा दिया. उन्होंने मैच में पांच विकेट लेकर कोलकाता नाइटराइडर्स (Kolkata Knight Riders) को सनराइजर्स हैदराबाद (Sunrisers Hyderabad) के खिलाफ सुपर ओवर तक चले मैच में जीत दिला दी. फर्ग्यूसन के पांच में से दो विकेट सुपर ओवर में थे, यह विकेट आंकड़ों में नहीं गिने जाते. यह उनका ही कमाल था कि सुपर ओवर में हैदराबाद की पारी केवल तीन गेंद तक चली. क्योंकि तीन गेंदों में ही उन्होंने दो विकेट गिरा दिए.

बता दें कि सुपर ओवर में दो विकेट गिरते ही पारी खत्म हो जाती है. दिलचस्प बात यह है कि फर्ग्यूसन को केकेआर ने पहले आठ मैचों में खेलने का मौका ही नहीं दिया. नौवें मैच में जब उन्हें मौका मिला तो उन्होंने साबित कर दिया कि टीम उन्हें बाहर रखकर कितनी गलती कर रही थी.

विलियमसन के शिकार से शुरू की कहानी

मैच में फर्ग्यूसन ने सबसे पहले केन विलियमसन का विकेट लिया. विलियमसन उस समय बढ़िया खेल रहे थे. 19 गेंद में चार चौकों और एक छक्के की मदद से 29 रन बना चुके थे. फर्ग्यूसन ने उनके सामने ऑफ में शॉर्ट पिच गेंद डाली. इसे विलियमसन ने थर्ड मैन के ऊपर से उड़ाना चाहा, लेकिन गेंद सीधे नीतीश राणा के हाथों में गई. बता दें कि न्यूजीलैंड के लिए फर्ग्यूसन विलियमसन की कप्तानी में खेलते हैं.

लॉकी फर्ग्यूसन.

पांडे और गर्ग भी नहीं बच पाए

फर्ग्यूसन का दूसरा शिकार युवा प्रियम गर्ग बने. वे तीसरे नंबर पर बैटिंग के लिए आए थे. उनके सामने स्लॉअर बॉल आई. फर्ग्यूसन की लेग कटर को प्रियम भांप नहीं पाए और गेंद बल्ले का किनारा लेकर स्टंप्स उड़ा गई. प्रियम ने सात रन बनाए. मनीष पांडे के रूप में फर्ग्यूसन को तीसरा विकेट मिला. जिस गेंद पर यह विकेट गिरा वह कमाल की यॉर्कर थी. इसकी सटीकता और रफ्तार दोनों ने पांडे को छकाया. 148 किलोमीटर प्रतिघंटे की स्पीड से आई गेंद पांडे के बल्ला नीचे आने से पहले ही अपना काम कर गई.

तीन गेंद में हैदराबाद की कहानी खत्म

चार ओवर के स्पैल में फर्ग्यूसन ने 15 रन दिए और हैदराबाद के टॉप में से तीन विकेट अपनी जेब में डाल लिए. फिर मैच सुपर ओवर में गया. बिना हिचक के कप्तान ऑएन मॉर्गन ने गेंद फर्ग्यूसन की ओर उछाल दी. उन्होंने कप्तान और टीम को निराश भी नहीं किया. पहली ही गेंद पर डेविड वॉर्नर को बोल्ड कर दिया. वॉर्नर का बिना खाता खोले जाना केकेआर के लिए बड़ी कामयाबी थी. दो गेंद बाद ही अब्दुल समद के स्टंप भी फर्ग्यूसन की गेंद से बिखरे मिले. इससे केकेआर को जीत के लिए तीन रन का लक्ष्य मिला, जो उसने आराम से हासिल कर लिया.

पहले दो बार नहीं छोड़ पाए छाप

लॉकी फर्ग्यूसन को केकेआर ने आईपीएल 2019 की नीलामी में लिया था. उन पर 1.60 करोड़ रुपये में खरीदा था. इस सीजन में उन्होंने पांच मैच खेले और दो विकेट लिए थे. इस वजह से न तो उन्हें ज्यादा मौके मिले और न वे खुद को साबित कर सके. केकेआर से पहले राइजिंग पुणे सुपरजाएंट ने आईपीएल 2017 में फर्ग्यूसन को 50 लाख रुपये में लिया था. उस समय उन्होंने चार मैच में तीन विकेट निकाले थे.

हैदराबाद के खिलाफ मैन ऑफ दी मैच चुने जाने के बाद फर्ग्यूसन ने कहा कि सुपर ओवर की पहली ही गेंद पर वॉर्नर को आउट करना उनका सबसे पसंदीदा क्षण रहा. उन्होंने कहा कि ऑएन मोर्गन का होना शानदार है जो काफी शांत रहते हैं. मुश्किल विकेट पर यह बहुत अच्छी जीत थी. बल्लेबाजों के प्रयासों के बाद शानदार प्रदर्शन अच्छा रहा.

(IPL 2020 की सबसे खास कवरेज मिलेगी TV9 भारतवर्ष पर. देखिए हर रोज: ‘रेगिस्तान में महासंग्राम)