IPL 2020 MI vs CSK: रोहित एंड कंपनी ने चेन्नई के सामने रखा 163 रनों का लक्ष्य

अबू धाबी के शेख जाएद स्टेडियम में खेले जा रहे IPL के 13वें सीजन के पहले मैच में CSK के कप्तान एमएस धोनी ने टॉस जीता और पहले गेंदबाजी का फैसला किया. इस मैच के साथ ही धोनी 10 जुलाई 2019 के बाद पहली बार कोई क्रिकेट मैच खेलने उतरे.

IPL 2020 के पहले मैच में मौजूदा चैंपियन मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) ने चेन्नई सुपर किंग्स के सामने जीत के लिए 163 रनों का लक्ष्य रखा है. अबू धाबी के शेख जाएद स्टेडियम में खेले जा रहे IPL के 13वें सीजन के पहले मैच में CSK के कप्तान एमएस धोनी ने टॉस जीता और पहले गेंदबाजी का फैसला किया. इस मैच के साथ ही धोनी 10 जुलाई 2019 के बाद पहली बार कोई क्रिकेट मैच खेलने उतरे. मुंबई इंडियंस की टीम ने यहां 9 विकेट खोकर 162 रन बनाए.

मुंबई के लिए कप्तान रोहित शर्मा और क्विंटन डी कॉक ने शानदार शुरुआत की. दोनों ने पहले ओवर से ही रनों की बरसात की. डी कॉक खास तौर पर ज्यादा आक्रामक दिखे और लगातार बाउंड्री जड़ते रहे. पहले 4 ओवरों में ही दोनों ने 40 से ज्यादा रन बना लिए. हालांकि, यहीं पर CSK ने वापसी की.

चेन्नई के लिए पहली बार खेल रहे लेग स्पिनर पीयूष चावला ने पारी के पांचवे ओवर में ही रोहित (12) को आउट कर मुंबई को पहला झटका दिया. अगले ही ओवर में मुंबई को दूसरा झटका लगा. ऑलराउंडर सैम कुरैन ने डि कॉक को वॉटसन के हाथों कैच कराया. डि कॉक ने सिर्फ 20 गेंदों में धुआंधार 33 रन बनाए.

सुरेश रैना और हरभजन सिंह इस सीजन में CSK के साथ नहीं हैं. क्या उन दोनों के बिना चेन्नई को इस सीजन में सफलता मिल पाएगी?
Vote

हालांकि, मुंबई ने जबरदस्त वापसी की और सौरभ तिवारी ने सूर्य कुमार के साथ मिलकर पारी को संभाला. दोनों ने टीम को 100 रन के करीब पहुंचाया. खास तौर पर तिवारी ने गेंदबाजों को निशाना बनाया और बाउंड्री जड़ी. जब लग रहा था कि मुंबई आसानी से बड़े स्कोर की ओर बढ़ जाएगी, तभी दीपक चाहर ने वापसी की. चाहर की गेंद पर बड़ा शॉट खेलसने की कोशिश में सूर्यकुमार (17) रन बनाकर आउट हो गए. इस वक्त मुंबई का स्कोर 92 रन था.

इसके बाद मैच अगर किसी एक खिलाड़ी ने पलटा तो वो थे चेन्नई के फाफ डुप्लेसिस. फाफ ने बाउंड्री के पास दो बेहतरीन कैच लिए और तिवारी और खतरनाक दिख रहे पंड्या को पवेलियन भेजा. मुंबई की आधी टीम 130 रनों के भीतर ही पवेलियन लौट चुकी थी. इसके बाद मुंबई के लगातार विकेट गिरने का सिलसिला जारी रहा. पोलार्ड जब बल्लेबाज कर रहे थे तो उनका साथ देने क्रुणाल पंड्या आए लेकिन वो भी 3 रन बनाकर आउट हो गए.

अंत में पोलार्ड और पैटिंसन ने पारी को संभाला और दोनों ने कुछ शानदार शॉट्स भी लगाए. लेकिन तभी पोलार्ड 18 रन बनाकर आउट हो गए. मुंबई की टीम 18 ओवरों में 7 विकेट के नुकसान पर 150 का आंकड़ा पार कर चुकी थी. लगातार विकेट गिरते रहे और मुंबई की टीम ने अंत 9 विकेट खोकर चेन्नई के सामने 163 रनों का लक्ष्य रखा. यहां मुंबई की तरफ से सौरभ तिवारी ने सबसे ज्यादा 42 रन बनाए तो वहीं चेन्नई की तरफ से लुंगी एनगिडी ने सबसे ज्यादा 3 विकेट लिए.

(IPL 2020 की सबसे खास कवरेज मिलेगी TV9 भारतवर्ष पर. देखिए हर रोज: ‘रेगिस्तान में महासंग्राम’)

 

Related Posts