रोहित-डीकॉक के आगे KKR के ‘नए कप्तान’ की एक न चली, 8 विकेट से जीतकर टॉप पर मुंबई

अबुधाबी में रोहित की बैलेंस टीम ने मॉर्गन की सेना को 8 विकेट से हरा दिया. और, इस बड़ी जीत के साथ पॉइंट्स टैली में टॉप पर भी कब्जा जमा लिया.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 10:54 pm, Fri, 16 October 20

नए कप्तान मॉर्गन की कमान में कोलकाता नाइट राइडर्स जीत की राह तक रही थी. वो पलटवार की सोच रही थी, ताकि पहली भिड़ंत में मुंबई इंडियंस से मिली 49 रन से हार की कड़वाहट को मिटाया जाए. लेकिन, कप्तान बदलने से भी टीम की परफॉर्मेन्स मुंबई के खिलाफ नहीं बदली. नतीजा, मुंबई के हाथों कोलकाता की 8 विकेट से  एक और हार. अबुधाबी में रोहित की बैलेंस टीम ने मॉर्गन की सेना को 8 विकेट से हरा दिया. और, इस बड़ी जीत के साथ पॉइंट्स टैली में टॉप पर भी कब्जा जमा लिया.

रोहित- डीकॉक का दम

कोलकाता से मिले 149 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए  मुंबई की शुरुआत धमाकेदार रही. रोहित और डीकॉक ने मिलकर पहले विकेट के लिए 94 रन जोड़े. इस साझेदारी को तोड़ने की KKR के नए कप्तान मॉर्गन ने कोशिशें तो खूब की लेकिन उन्हें सफलता के लिए 12वें ओवर तक का इंतजार करना पड़ा, जहां शिवम मावी ने एक बार फिर से इस सीजन में रोहित शर्मा का विकेट लिया, जिन्होंने 35 रन बनाए.

डीकॉक और पंड्या की साझेदारी

रोहित के आउट होने के बाद भी कोलकाता के गेंदबाजों पर डीकॉक का प्रहार जारी रहा. इस काम में बेशक सूर्यकुमार यादव से कोई बड़ी मदद नहीं मिली, जो 10 रन बनाकर आउट हो गए. लेकिन उसके बाद हार्दिक पंड्या ने अफ्रीकी बल्लेबाज के साथ मिलकर टीम को जीत दिलाकर ही दम लिया. डीकॉक और हार्दिक ने मिलकर तीसरे विकेट के लिए नाबाद 38 रन जोड़े. इस साझेदारी में पंड्या 21 रन बनाकर नाबाद रहे. वहीं डीकॉक ने अपनी फुल पारी में 44 गेंदों पर 9 चौके और 3 छक्के के दम पर नाबाद 78 रन बनाए.

कोलकाता की इनिंग

इससे पहले कोलकाता ने पहले खेलते हुए 20 ओवर में 5 विकेट पर 148 रन बनाए थे. कोलकाता की शुरुआत खराब रही थी. उसके टॉप 5 बल्लेबाज सिर्फ 61 रन पर डगआउट में लौट गए थे. लेकिन इसके बाद मॉर्गन और कमिंस ने मिलकर नाबाद 87 रन जोड़े, जो कि छठे विकेट के लिए KKR की चौथी बड़ी साझेदारी रही. कमिंस ने नाबाद रहते हुए 53 रन बनाए वहीं मॉर्गन 29 गेंदों पर 39 रन बनाकर नाबाद रहे.

(IPL 2020 की सबसे खास कवरेज मिलेगी TV9 भारतवर्ष पर. देखिए हर रोज: ‘रेगिस्तान में महासंग्राम)