IPL 2020: मजबूत ओपनिंग-धारदार गेंदबाजी, फिर भी बड़ी समस्या से जूझ रही SRH

टीम की बल्लेबाजी मजबूत मानी जाती है और उससे ज्यादा उसकी गेंदबाजी मजबूत है. उसकी सलामी जोड़ी में दो बड़े नाम हैं, डेविड वॉर्नर (David Warner) और जॉनी बेयरस्टो (Jonny Bairstow).

SRH

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) का खिताब जीतने वाली छह टीमों में से एक सनराइजर्स हैदराबाद (Sunrisers Hyderabad) 2016 के बाद से लगातार ऐसी टीम रही है, जो खिताब की दावेदार मानी जाती रही है. 2016 में खिताब जीतने के बाद, 2017 में वो चौथे स्थान पर रही और 2018 में फाइनल में पहुंची. 2019 में टीम चौथे स्थान पर रही थी. पहले इस टीम को डेक्कन चार्जर्स के नाम से जाना जाता था और उस टीम ने 2009 में खिताब भी दिलाया था. टीम की बल्लेबाजी मजबूत मानी जाती है और उससे ज्यादा उसकी गेंदबाजी मजबूत है.

SRH की सलामी जोड़ी में दो बड़े नाम हैं, डेविड वॉर्नर (David Warner) और जॉनी बेयरस्टो (Jonny Bairstow). इन दोनों ने पिछले सीजन में बेहतरीन प्रदर्शन किया था. वॉर्नर ने 12 मैचों में 692 रन बनाए थे और बेयरस्टो ने 10 मैचों में 445 रन बनाए थे. इस समय ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड की टीमें वनडे सीरीज खेल रही हैं और ऐसे में उनके शुरुआती मैचों में खेलने को लेकर संशय बना हुआ है, लेकिन जब यह जोड़ी मैदान पर उतरेगी तो किसी भी गेंदबाजी आक्रमण के लिए सिर दर्द साबित हो सकती है.

अंतिम-11 में बनती नहीं दिख रही विलियम्सन की जगह 

मगर जब यह दोनों चलते नहीं हैं तब सनराइजर्स के लिए मुश्किल होती है. इस स्थिति में सनराइजर्स मोहम्मद नबी के साथ जा सकती है, जो निचले क्रम में बल्ले से तेजी से रन बना सकते हैं, लेकिन इसके कारण केन विलियम्सन (Kane Williamson). को बाहर बैठना पड़ सकता है. विलियम्सन जब टीम की कप्तानी नहीं कर रहे होते हैं, तब उनका अंतिम ग्यारह में रहना एक सवाल बना रहता है. विश्व के बेहतरीन बल्लेबाजों में शुमार विलियम्सन को अधिकतर बेंच पर ही देखा गया है, क्योंकि नबी के अलावा उन्हीं के हमवतन राशिद खान (Rashid Khan) टीम का अहम हिस्सा हैं. ऐसे में संभावना है कि विलियम्सन इस सीजन भी अधिकतर समय बेंच पर ही बैठे नजर आएंगे.

नंबर-3 पर प्रियम गर्ग बल्लेबाजी कर सकते हैं. अंडर-19 विश्व कप में टीम को फाइनल में पहुंचाने वाले कप्तान प्रियम का यह पहला आईपीएल होगा. टीम के पास नंबर-3 के लिए प्रियम और विकेटकीपर बल्लेबाज ऋद्धिमान साहा विकल्प हैं. इस स्थान के लिए एक और विकल्प विराट सिंह हैं, जिन्होंने सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में 142.32 की स्ट्राइक रेट से 343 रन बनाए थे.

राशिद और भुवनेश्वर कुमार के इर्द गिर्द घूमती गेंदबाजी

इसके बाद मनीष पांडे (Mansih Pnadey) का खेलना पक्का है, जो बीते कुछ वर्षों से टीम के स्थायी सदस्य हैं और IPL का बड़ा नाम हैं. निचले क्रम में आजमाने के लिए टीम के पास विजय शंकर, फाबियान ऐलन, 18 साल के अब्दुल समद और नबी मौजूद हैं. टीम की गेंजबाजी राशिद और भुवनेश्वर कुमार के इर्द गिर्द घूमती है. यहां संदीप शर्मा, बासिल थम्पी, सिद्धार्थ कौल उन दोनों का साथ दे सकते हैं, जो बीते सत्रों में टीम को मजबूती देते हुए आए हैं.

टीम :- डेविड वॉर्नर (कप्तान), अभिषेक शर्मा, बासिल थम्पी, भुवनेश्वर कुमार, बिली स्टानलेक, केन विलियम्सन, मनीष पांडे, मोहम्मद नबी, राशिद खान, संदीप शर्मा, शहबाज नदीम, ऋद्धिमान साहा (विकेटकीपर), जॉनी बेयरस्टो (विकेटकीपर), श्रीवत्स गोस्वामी (विकेटकीपर), सिद्धार्थ कौल, खलील अहमद, टी. नागाराजन, विजय शंकर, अब्दुल समद, फाबियान ऐलन, मिशेल मार्श, प्रियम गर्ग, संदीप बावांका, संजय यादव और विराट सिंह.

Related Posts